गरीबों और दलितों की हिमायत का दम भरने वाली बहुजन समाज पार्टी के नेता भी अब फाइव स्टार होटलों में कमरे दिलाने और ऐशो आराम के लिए जिले के नेताओं पर दबाव बना रहे है। पार्टी नेताओं की इन्हीं ख्वाहिशों को पूरी न कर पाने के कारण मिर्जापुर जिलाध्यक्ष रामाश्रेय भारती ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है।

उनका इस्तीफा होते ही बहुजन समाज पार्टी ने भगवान दास रत्ना को नया अध्यक्ष नियुक्त किया है। पूर्व अध्यक्ष रामाश्रेय भारती  ने अपने इस्तीफे में बताया है कि पार्टी पदाधिकारियों के लिए अष्टभुजा डाकबंगला बुक कराया था लेकिन होटल पदाधिकारी होटल में रहना चाहते थे और वहां रहने चले गए। मेरे जैसे व्यक्ति के लिए होटल का खर्च वहन करना संभव नहीं था। साथ ही मुझे जानकारी दिये बगैर ही वहां जाना भी ठीक नहीं है। ऐसे में जिलाध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे रहा हूं।  

हालांकि रामश्रेय ने पार्टी से इस्तीफा नहीं दिया है। अभी किसी भी दल में शामिल होने के संबंध में कोई बात नहीं की। वे वर्तमान में पहाड़ी ब्लाक के दाढ़ीराम गांव से ग्राम प्रधान भी चुने गए है। इससे पहले वे जिला पंचायत सदस्य भी चुने गए थे। 

उधर बहुजन समाज पार्टी के नेताओं की सिटी ब्लाक के वीरपुर गांव में हुई बैठक में भगवान दास रत्ना को पार्टी का नया जिलाध्यक्ष नियुक्त किया गया। इस दौरान संगठन को बूथ स्तर पर मजबूत बनाने का कार्यकर्ताओं को निर्देश दिया गया। मुख्य अतिथि व पूर्व एमएलसी डा. विजय प्रताप ने कहाकि पूर्व मुख्यमंत्री मायावती के निर्देश पर पासी समाज को सम्मान देते हुए भगवान दास रत्ना को नया अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। कार्यकर्ता भगवान दास रत्ना के नेतृत्व में जिले में बसपा को मजबूत करने में जुट जाए। आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारी अभी से शुरू कर दें। विधानसभा चुनाव अगले वर्ष फरवरी-मार्च में होगा। लिहाजा बूथ स्तर पर तैयारी शुरू कर दें। तभी पार्टी को प्रदेश में सत्ता मिल पाएगी।

इस मौके पर पूर्व मंत्री डा. अशोक कुमार गौतम, मुख्य सेक्टर प्रभारी अशोक गौतम मौजूद रहे। बैठक की अध्यक्षता गुड्डूराम ने की। बैठक में राज नरायन निराला, राजकुमार, शिवजोर पाल, पन्ना लाल, पूर्व विधायक सूर्यभान, सद्दाम राइन, सुरेंद्र मौर्य, राकेश पटेल, मनोज गौतम, रमेश चंद्र पाण्डेय आदि मौजूद रहे।