स्वर कोकिला और भारत रत्न लता मंगेशकर का आज निधन हो गया है। वो 92 साल की थी। लता मंगेशकर का जन्म 28 सितम्बर 1929 को इन्दौर में हुआ जो कि अब मध्यप्रदेश में स्थित है। वे पंडित दीनानाथ मंगेशकर और शेवंती की बड़ी बेटी हैं। लता के पिता पंडित दीनानाथ मंगेशकर एक मराठी संगीतकार, शास्त्रीय गायक और थिएटर एक्टर थे जबकि मां गुजराती थीं। आज यानि 6 फरवरी 2022 को लता मंगेशकर ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया।



लता मंगेशकर ने अपनी सुरीली आवाज से सभी को अपना दीवाना बनाया हुआ था। उन्हें संगीत विरासत में मिला था। भारत रत्न से सम्मानित लता मंगेशकर ने अपने करियर में कई भाषाओं में 30 हजार से ज्यादा गाने गाए हैं।



लता मंगेशकर से 13 साल की उम्र में ही अपने करियर की शुरुआत कर दी थी। उन्होंने अपना पहला गाना मराठी फिल्म के लिए रिकॉर्ड किया था। लता मंगेशकर ने अपने करियर में मधुबाला से लेकर प्रियंका चोपड़ा सभी के लिए गाना गाया है। उन्होंने कई बॉलीवुड एक्ट्रेस के लिए अपनी आवाज दी है।

मशहूर सिंगर लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar Songs) ने अपनी मधुर आवाज़ के ज़रिए करोड़ों लोगों के दिलों में अपनी जगह बनाई है. आम लोगों के साथ-साथ बॉलीवुड की कई बड़ी हस्तियां भी उनकी फैन हैं। उनकी आवाज़ के दीवानों में एक नाम ट्रेजिड़ी क्वीन मीना कुमारी (Meena Kumari) का भी था। इतना ही नहीं एक बार तो मीना कुमारी ने खुद उनके घर जाकर गाने का न्योता दिया था। लेकिन लता मंगेशकर ने उनके इस ऑफर को ठुकरा दिया था। इस बात का खुलासा लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) ने खुद एक इंटरव्यू में किया था।



अनिल बिस्वास, शंकर जयकिशन, सचिनदेव बर्मन, नौशाद, हुस्नलाल भगतराम, सी. रामचंद्र, सलिल चौधरी, सज्जाद-हुसैन, वसंत देसाई, मदन मोहन, खय्याम, कल्याणजी आनंदजी, लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल, राहुल देव बर्मन जैसे नामी संगीतकार मधुर धुनों का निर्माण कर रहे थे और लता मंगेशकर सभी की पहली पसंद थी।



लता जी हर गाने को लता विशेष बना देती थीं। चाहे वो रोमांटिक गाना हो, राग आधारित हो, भजन हो, देशभक्ति से ओतप्रोत हो। उनके द्वारा गाए गीत 'ऐ मेरे वतन के लोगों' को सुन तत्कालीन प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की भी आंख भर आई थी।