देश की रक्षा में तैनात असम राइफल्स का जवान नागालैंड के उग्रवादियों की गोली से शहीद हो गया। शहीद जवान दिनहाटा के बड़ा शाकदल गांव का रहने वाला रवींद्रनाथ मोदक है। शनिवार को उसका शव दिनहाटा स्थित उसके निवास पर पहुंचा।

गार्ड ऑफ ऑनर के साथ उसे अंतिम विदायी दी गयी। असम राइफल्स की ओर से शनिवार शाम जवान का शव दिनहाटा स्थित उसके घर लाया गया। इससे पूरा इलाका मातम में डूब गया। वह लगभग दो सप्ताह पहले ही घरवालों से मिलकर गया था। उसके दोस्त ने बताया कि 8 जून को नागालैंड उग्रवादियों के बम व गोली से वह घायल हुआ था।
 

इसके बाद से उसका इलाज चल रहा था। शुक्रवार को वह वीर गती को प्राप्त हो गया। असम राइफल्स की ओर से शव लेकर पहुंचने पर वहां दिनहाटा विधायक उदयन गुहा, साहेबगंज थाना ओसी हेमंत शर्मा, दिलीप राय सहित अनेक लोग उपस्थित थे। शव के पहुंचते ही शहीद जवान के पिता नगेन मोदक, मां सुकुमारी मोदक सहित परिवार में शोक की लहर दौड़ गयी। विधायक सहित इलाके के लोगों ने शहीद को अंतिम श्रद्धांजलि दी। असम राइफल्स व पुलिस की ओर से शहीद को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।