राष्ट्रीय राजधानी में दीन दयाल उपाध्याय (डीडीयू) मार्ग पर सोमवार को लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri Incident) की घटना का विरोध कर रहे कुछ कांग्रेस कार्यकर्ताओं के मोबाइल फोन और पर्स चोरी हो गए। दोपहर करीब 1 बजे बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने अपने राज्य पार्टी कार्यालय दीन दयाल उपाध्याय (डीडीयू) मार्ग से अपना विरोध मार्च शुरू किया और मिंटो ब्रिज के पास भाजपा मुख्यालय की ओर बढ़े। हालांकि, उन्हें दिल्ली पुलिस (delhi police) ने रंजीत सिंह फ्लाईओवर पर रोक दिया।

विरोध मार्च के दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं को डीडीयू मार्ग पर लगाए गए भाजपा के बैनर और पोस्टर फाड़ते देखा गया। जब कुछ प्रदर्शनकारियों ने विरोध स्थल पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का पुतला फूंका, उन्होंने देखा कि उनकी पार्टी के कुछ सहयोगियों के पर्स और मोबाइल फोन चोरी हो गए थे। दिल्ली पुलिस हरकत में आई और एक घोषणा करते हुए कहा, कृपया सतर्क रहें, कुछ प्रदर्शनकारियों के मोबाइल फोन चोरी हो गए हैं। हम यहां शांति बनाए रखने और अपनी जेब और मोबाइल फोन सुरक्षित रखने का अनुरोध करेंगे। इसी दौरान गिरोह के कुछ लोगों ने एक संदिग्ध चोर को पकड़ लिया और उसकी पिटाई करने लगे। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और पूछताछ के लिए उसे थाने ले गई।