केपी शर्मा ओली ने नेपाल के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली है। यह तीसरी बार है जब केपी शर्मा ओली ने नेपाल के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली है। कुछ दिन पहले विश्वास मत हारने के बावजूद केपी शर्मा ओली ने नेपाल के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली है। 69 वर्षीय ओली को राष्ट्रपति बिद्या देवी भंडारी ने पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई।


विपक्षी दलों द्वारा नई सरकार बनाने के लिए संसद में बहुमत हासिल करने में विफल रहने के बाद ओली ने तीसरी बार नेपाल के प्रधान मंत्री के रूप में कार्यभार संभाला। नेपाल के राष्ट्रपति के कार्यालय ने प्रेस बयान में कहा कि राष्ट्रपति भंडारी ने नेपाल के संविधान के अनुच्छेद 78 (3) के अनुसार प्रतिनिधि सभा में सबसे बड़ी राजनीतिक पार्टी के नेता के रूप में ओली को प्रधानमंत्री के रूप में फिर से नियुक्त किया।

ओली को 30 दिनों के भीतर संसद में बहुमत साबित करने की आवश्यकता होगी। उन्होंने पहले 11 अक्टूबर, 2015 से 3 अगस्त, 2016 तक नेपाल के प्रधान मंत्री और 15 फरवरी, 2018 से 13 मई, 2021 तक सेवा की थी। नेपाल में बहुमत की सरकार बनाने के लिए फिलहाल 136 वोटों की जरूरत है।