देश में कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है।  देश में स्वदेशी वैक्सीन के साथ साथ विदेशी वैक्सीन भी लगाई जा रही है। अब देश को जल्दी एक और वैक्सीन मिल जाएगी। जिससे वैक्सीनेशन में तेजी आएगी। हाल ही में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के सीईओ अदार पूनावाला कहा है कि नोवावैक्स की वैक्सीन ‘कोवोवैक्स’ सितंबर तक लॉन्च की जा सकती है।


जानकारी के लिए बता दें कि देश में सीरम की ही कोविशील्ड, भारत बायोटेक में तैयार हुई कोवैक्सीन और रूस की स्पूतनिक V का इस्तेमाल किया जा रहा है। पूनावाला ने बताया है कि कोवोवैक्स के ट्रायल्स पूरे होने वाले हैं। पूनावाला कहा कि “अगर रेग्युलेटरी से अनुमति मिलती है, तो कोवोवैक्स सितंबर तक भारत में लॉन्च होने के लिए तैयार हो सकती है ”। उन्होंने बताया कि भारत में नोवावैक्स की वैक्सीन के ट्रायल नवंबर तक पूरे किए जा सकते हैं।

सीरम के सीईओ ने जानकारी दी कि देश में ट्रायल का दौर पूरा होने से पहले भी कंपनी वैश्विक डेटा के आधार पर लाइसेंस के लिए आवेदन कर सकती है। हाल ही में नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने जानकारी दी थी कि नोवावैक्स के टीके का निर्माण सीरम इंस्टीट्यूट में होगा। कंपनी ने बताया था कि उनकी वैक्सीन ने वेरिएंट्स ऑफ कन्सर्न और वेरिएंट्स ऑफ इंटरेस्ट के खिलाफ 93 फीसदी प्रभावकारिता दिखाई है।