कोरोना फैलाने के आरोप में पूरे विश्व की आलोचना झेल रहे चीन के निवासियों का जानवर खाने का शौक फिलहाल छूटने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले साल वुहान में चमगादड़ों से महामारी फैलने के बावजूद युलिन शहर में कुत्तों का बाजार सजा दिया है। दस दिन तक चलने वाले इस सालाना ‘डॉग मीट फेस्टिवल’ में हजारों कुत्ते काटे जाएंगे।

सरकार के वन्यजीव व पालतू जानवरों के भक्षण को हतोत्साहित करने वाले अभियान के बावजूद यह मेला आयोजित किया जा रहा है। यहां कुत्तों पर अत्याचार तो होगा ही बल्कि लोगों के जमावड़े से कोरोना फैलने का खतरा भी बढ़ेगा। फिलहाल मेले के आयोजकों का कहना है कि कोरोना को ध्यान में रखते हुए कार्यक्रम में लोगों की संख्या कम रखी गई है।

इधर जानवर खाने को लेकर सरकार द्वारा बनाए जा रहे नए नियमों के मद्देनजर पशु अधिकार कार्यकर्ताओं ने उम्मीद जताई है कि युलिन में चल रहा डॉग मीट फेस्टिवल आखिरी होगा। उनका कहना है कि भविष्य में कोरोना जैसी महामारी से बचने के लिए न सिर्फ जानवरों बल्कि खुद के स्वास्थ्य के लिए भी चीनियों को खानपान की आदतें बदलनी होंगी।