बिहार के किशनगंज टाउन थानेदार अश्विनी कुमार की वीभत्स मॉब लिंचिंग के बाद उनके घर में एकबार फिर मातम छा गया है। बेटे की हत्या के सदमे में उनकी मां ने भी शरीर छोड़ दिए। बताया जा रहा है कि वो बेटे की हत्या का गम बर्दाश्त नहीं कर पाईं।

पश्चिम बंगाल में मॉब लिन्चिंग का शिकार हुए किशनगंज टाउन थानेदार अश्विनी कुमार का पार्थिव शरीर जब उनके घर पहुंचा तो उनकी मां इस दुख को बर्दाश्त नहीं कर पाईं। बेटे का शव देखते ही मां ने भी अपने प्राण त्याग दिए। इसके बाद पूरे इलाके का माहौल गमगीन हो गया। एक साथ शहीद थानेदार अश्विनी कुमार के घर से दो अर्थियां उठीं।

किशनगंज के टाउन थानाध्यक्ष अश्विनी कुमार की हत्या से परिजनों में जबरदस्त आक्रोश है। परिजनों का आरोप है कि साजिश के तहत थानेदार की हत्या की गई। उनका कहना है कि थानाध्यक्ष के साथ गए पुलिस पदाधिकारी और पुलिस बल अगर वहां मौजूद रहकर एक भी गोली चला देते तो शायद भीड़ के चंगुल से अश्विनी कुमार की जान बच जाती।

मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में सर्किल इंस्पेक्टर मनीष कुमार सहित सात पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। आईजी के निर्देश पर एसपी ने कार्रवाई की। बताया जा रहा है कि जब पश्चिम बंगाल के दिनाजपुर में भीड़ ने थानेदार अश्विनी कुमार को घेरा तो ये पुलिसकर्मी वहां से हट गए।

शहीद थानेदार अश्विनी कुमार की हत्या के आरोप में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए आरोपियों में फिरोज आलम, उसका भाई अबुजार आलम और इनकी मां सहीनुर खातुन शामिल हैं। पुलिस के मुताबिक फिरोज इस घटना का मुख्य आरोपी है। किशनगंज से सटे पश्चिम बंगाल के पंथापड़ा में तहकीकात के सिलसिले में दलबल के साथ गए इंस्पेक्टर अश्विनी कुमार पर ग्रामीणों ने हमला कर दिया था। इस दौरान मॉब लिन्चिंग कर उनकी हत्या कर दी गई। 

पुलिस मुख्यालय के मुताबिक इस मामले में नामजद अभियुक्तों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जा रही है। इसमें संलिप्त तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पूर्णिया के आईजी और किशनगंज के एसपी घटनास्थल पर कैंप कर रहे हैं। वहीं डीजीपी एसके सिंघल ने पश्चिम बंगाल के डीजीपी से इस मामले में बात की।

बंगाल के डीजीपी ने पूर्ण सहयोग का आश्वासन दिया है। पुलिस मुख्यालय के मुताबिक शहीद इंस्पेक्टर अश्विनी कुमार के परिजनों को अनुग्रह अनुदान, सेवांत लाभ और एक आश्रित को सरकारी नौकरी देने के लिए कार्रवाई की जा रही है। बिहार पुलिस ने शहीद इंस्पेक्टर अश्विनी कुमार को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके परिवार के प्रति गहरी संवेदना प्रकट की है।