संसद के मानसून सत्र जब से शुरू हुआ तब से पेगासस जासूसी कांड को लेकर सदन में हंगामा बढ़ता ही जा रहा है।  पेगासस जासूसी कांड पर लोकसभा में चर्चा की मांग को लेकर आज बुधवार को विपक्ष का गुस्सा इतना बढ़ गया कि सांसदों ने सदन के अंदर पर्चे फाड़कर सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।  इस दौरान एक बार फिर खेला होबे के नारे लगे। 

पेगासस, महंगाई और किसानों के मुद्दे पर सरकार को घेरने के लिए कांग्रेस की अगुवाई में 14 विपक्षी दल एक साथ आए।  संसद में पेगासस जासूसी कांड को लेकर विपक्ष के हंगामे के बीच कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर बड़ा हमला किया। 

उन्होंने कहा कि किसानों के मुद्दे पर कोई समझौता नहीं होगा। उन्होंने कहा कि पूरा विपक्ष एक साथ खड़ा है।  हमारी आवाज संसद में दबाई जा रही है।  कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि सदन में पेगासस मुद्दे पर चर्चा के बिना हम नहीं मानेंगे।  राहुल की इस प्रेस वार्ता के दौरान कई दलों के नेता भी मौजूद रहे। 

संसद के दोनों सदनों में विपक्ष के बढ़ते हंगामे को देखते हुए केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने विपक्षी दलों पर निशााना साधा।  अनुराग ठाकुर ने कहा कि विपक्ष ने लोकतंत्र की मर्यादा को तोड़ा है।  कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस के सांसद लगातार संसद की मर्यादा तोड़ रहे हैं।  उन्होंने कहा कि विपक्ष आखिर चर्चा से क्यों भाग रहा है।  सदन में हर विषय पर चर्चा जरूरी है।