भारत के केलर के इंजीनीयरिंग के छात्र ने अफगानिस्तान में तहलका मचा दिया है। जिससे भारत सरकार की भी हवा टाइट हो गई है। छात्र ने अपने आप को बम से ब्लास्ट कर लिया है, जिससे उसकी मौत हो गई है। दरअसल, छात्र वैश्विक आतंकी संगठन Islamic State की अफगानिस्तान स्थित ब्रांच इस्लामिक स्टेट-खुरासान प्रोवींस (ISKP) में शामिल हुआ था।
जिसने हाल ही में Afghanistan में सुसाइड बम ब्लास्ट किया है। इसकी जानकारी आतंकी संगठन की हाल ही में आई मैग्जीन में दी गई है। ISKP की मैग्जीन वॉइस ऑफ खुरासान ने इस भारतीय युवक की पहचान नजीब अल हिंदी के तौर पर की है और इसे 23 साल का ‘केरल से ताल्लुक रखने वाला इंजीनियरिंग (M. Tech) का छात्र बताया गया है।
यह भी पढ़ें- हार पचा नहीं पा रही कांग्रेस! करारी हार के बाद गुस्साए इबोबी सिंह, भाजपा पर लगा दिए घिनौने आरोप
रिपोर्ट में नजीब के बारे में अधिक जानकारी नहीं दी गई है और ना ही ये बताया गया है कि वह किन हालातों के बीच मरा है या उसकी मौत किस समय हुई। इसमें नजीब की तुलना हंजाला इब्न अबी अमीर से की गई है, जो पैगंबर मोहम्मद के साथियों में से एक थे। ऐसा इसलिए क्योंकि नजीब की मौत एक पाकिस्तानी महिला से निकाह करने के कुछ घंटों बाद ही हो गई।
यह भी पढ़ें- छोटी सी बच्ची के गाने पर उपराष्ट्रपति नायडू का आया दिल, अपने अकाउंट से वीडियो कर दिया वायरल


भारत से खुरासान आया था नजीब


इस्लामिक स्टेट ने अपने आर्टिकल में बताया है कि नजीब अफगानिस्तान में स्थित खुरासान क्षेत्र में आया था, जहां ISKP की मौजूदगी है। इसमें लिखा है, ‘वो भारत से अपने दम पर यहां आया था। वो यहां अलग-अलग स्थानों से आए दूसरे लड़ाकों से मिला और एक गेस्ट रूप में बैचलर की तरह रहा। वो बहुत शांत था और जब जरूरत होती थी, तभी बोलता था। उसके चेहरे पर हमेशा मुस्कान रहती थी। उसने पहाड़ों पर मुश्किल जिंदगी को लेकर कभी शिकायत नहीं की, उसके दिमाग में सिर्फ एक ही चीज चल रही थी, जो थी शहादाह’।