आम आदमी पार्टी के मुखिया और दिल्ली की सीएम अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को विधानसभा चुनाव के मद्देनजर गोवा में नौकरियों और बेरोजगारी के बारे में सात घोषणाएं कीं. केजरीवाल ने वादा किया कि अगर AAP सत्ता में आती है तो वह भ्रष्टाचार को रोकेगी. साथ ही वह राज्य के युवाओं की सरकारी नौकरियों में पहुंच सुनिश्चित करेगी.

उन्होंने यह भी कहा कि हर घर से एक बेरोजगार व्यक्ति को नौकरी मिलेगी और काम की तलाश में बेरोजगार लोगों को 3,000 रुपये का भत्ता मिलेगा. दिल्ली के मुख्यमंत्री ने यह भी घोषणा की है कि राज्य में 80 प्रतिशत नौकरियां गोवा के मूल निवासियों के लिए आरक्षित होंगी.

आम आदमी पार्टी के एक ट्वीट के अनुसार गोवा के लिए पार्टी ने ऐलान किया है कि पर्यटन के क्षेत्र में कोविड के चलते जो लोग बेरोजगार हो गए हैं उन्हें प्रतिमाह 5,000 रुपये, खदान का काम रुकने से प्रभावित हुए लोगों को पांच हजार रुपये प्रतिमाह देगी. साथ ही ऐलान किया गया है कि अगर सरकार आई तो AAP स्किल यूनिवर्सिटी शुरू करेगी.

इससे पहले केजरीवाल ने सोमवार को दावा किया था कि गोवा में युवाओं को नौकरी नहीं मिल रही है और वह स्थानीय लोगों के साथ इस मुद्दे पर चर्चा करने के लिए राज्य का दौरा करेंगे. AAP नेता ने यह भी दावा किया था कि सरकारी नौकरियां केवल पैसे वालों को और संपर्कों के आधार पर ही मिलती हैं. केजरीवाल ने ट्वीट किया था, बेरोजगारी चरम पर होने के कारण गोवा के युवाओं को नौकरी नहीं मिल रही है. सरकारी नौकरी सिर्फ पैसे वालों को और संपर्कों के आधार मिलती है