दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal) ने कहा कि आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) पंजाब में न केवल 300 यूनिट तक मुफ्त बिजली ( free electricity up to 300 units)  देगी, बल्कि राज्य में स्वास्थ्य के बुनियादी ढांचे को सुधारने के लिए एक बड़ी योजना भी तैयार करेगी। 

अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों से पहले राज्य में एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए आप सुप्रीमो ने बताया कि अगर उनकी पार्टी दिल्ली से किए गए वादों को पूरा कर सकती है, तो वह पंजाब के लोगों के लिए भी ऐसा कर सकती है।

अगर आप सत्ता में आती है तो केजरीवाल ने पंजाब के लिए अपनी 'उन्नत' योजना पर जोर दिया और उस राज्य के लिए '6 गारंटियां' सूचीबद्ध की गईं, जहां अगला विधानसभा चुनाव 2022 में होना है।

पंजाब में स्वास्थ्य (healthcare)  सेवा के संबंध में आप के संयोजक ने जिन 6 गारंटियों की घोषणा की है, वे हैं:

- पंजाब के सभी नागरिकों के लिए मुफ्त स्वास्थ्य सुविधाएं

- सभी का मुफ्त इलाज, दवाइयां, ऑपरेशन। आप सरकार सुनिश्चित करेगी कि दवाएं हमेशा उपलब्ध रहें।

- सभी नागरिकों के लिए हेल्थ कार्ड, जिसमें मरीज का सारा ऐतिहासिक डेटा होगा।

- दिल्ली के मोहल्ला क्लिनिक मॉडल की नकल करते हुए राज्य भर में 16,000 स्थानों पर पिंड क्लिनिक और वार्ड क्लिनिक।

- पंजाब के सभी सरकारी अस्पतालों में नए अस्पतालों के आश्वासन के साथ पूरी तरह से सुधार।

- पूरे पंजाब में सभी सड़क दुर्घटना पीड़ितों का मुफ्त इलाज

केजरीवाल (Kejriwal )  ने लुधियाना में कहा, ''मैंने बार-बार कहा है कि समय आने पर हम आपको एक अच्छा सीएम चेहरा देंगे, यह कोई भी हो सकता है। हम अभी इसके बारे में नहीं सोच रहे हैं।''

यह पूछे जाने पर कि क्या नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) आम आदमी पार्टी में लौटेंगे, उन्होंने इसे "काल्पनिक प्रश्न" कहकर खारिज कर दिया। उन्होंने कहा, ''पंजाब ने बड़ी उम्मीद के साथ कांग्रेस की सरकार बनाई थी। लेकिन आज उन्होंने सरकार का मजाक उड़ाया है। सत्ता के लिए गंदी लड़ाई चल रही है। उनके सभी नेता सीएम बनना चाहते हैं। इतनी अंदरूनी कलह है कि सरकार गायब हो गई है।''

इसके अलावा, केजरीवाल ने यह भी वादा किया कि अगर पंजाब में आम आदमी पार्टी सत्ता में आती है, तो नई सरकार मौजूदा जालंधर, अमृतसर और चंडीगढ़ के अलावा हर शहर में प्रेस क्लब भी खोलेगी।