कोरोना काल में केंद्र सरकार की दो योजनाएं प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना आपके काम आ सकती है। PMJJBY और PMSBY के तहत इंश्योरेंस की सुविधा मिलती है। अगर आपने सरकार की इस स्कीम का फायदा उठाया है तो इस महीने अपने बैंक खाते में 342 रुपए जरूर रखें। ऐसा नहीं करने पर आपको 4 लाख रुपए का नुकसान हो सकता है।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना की प्रीमियम की राशि खाताधारक के बचत खाते से बैंक द्वारा ऑटो डेबिट सुविधा के जरिए जमा हो जाती है। कोई भी व्यक्ति केवल एक बचत खाता द्वारा ही इस योजना के लिए पात्र होगा।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (PMJJBY) और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (PMSBY) के तहत कुल 4 लाख रुपए का बीमा मिलता है। PMJJBY में 55 साल तक की उम्र तक लाइफ कवर मिलता है। यह एक तरह का टर्म इंश्योरेंस है जिसे हर साल रिन्यू करना होता है। इसमें बीमाधारक की मौत होने पर उनके परिवार के सदस्य सरकार से 2 लाख रुपए के लिए क्लेम कर सकते हैं। इसमें दूसरी बीमारियों समेत कोरोना महामारी को भी कवर किया जा रहा है। ऐसे में अगर किसी व्यक्ति की मृत्यु कोरोना से होती है तब भी परिवार वाले पैसों के लिए क्लेम कर सकते हैं। यह योजना हर साल रिन्‍यू होती है। इसका सालाना प्रीमि‍यम 330 रुपए है।

PMSBY के लिए 18-70 उम्र वर्ग के लोग आवेदन कर सकते हैं। योजना का फायदा उठाने के लिए बचत खाता होना अनिवार्य है। इस स्कीम के तहत बीमा लेने वाले की एक्‍सीडेंट में मौत होने या पूरी तरह से अपंग होने पर 2 लाख रुपये का दुर्घटना बीमा मिलता है। स्‍थायी रूप से आंशिक अपंग होने पर 1 लाख रुपये का कवर मिलता है। 18 से 70 साल तक की उम्र के भारतीय PMSBY का लाभ ले सकते हैं। इस स्कीम का सालाना प्रीमियम महज 12 रुपए है।

18 से 50 साल तक की उम्र का व्यक्ति PMJJBY योजना का लाभ ले सकता है। वहीं, PMSBY का लाभ 18 से 70 साल तक की उम्र तक का व्यक्ति उठा सकता है।

आवेदन कैसे करें

अगर आप इस योजना के तहत पॉलिसी लेना चाहते हैं तो आप किसी भी बैंक में सीधे जाकर इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके अलावा और भी की तरीके हैं जिनके जरिए आप ये पॉलिसी ले सकते हैं। इनमें बैंक मित्र, बीमा एजेंट और सरकारी और प्राइवेट बीमा कंपनियां भी शामिल हैं।

अगर समय पर प्रीमियम जमा नहीं किया गया तो पॉलिसी रद्द हो जाती है और फिर रिन्यू नहीं होती है। प्रीमियम बैंक अकाउंट से सीधे ऑटो डेबिट होता है। पॉलिसी रद्द तब होती है जब बैंक अकाउंट में प्रीमियम की रकम जितना पैसा न हो। अगर किसी वजह से आपका बैंक अकाउंट बंद हो गया है, तो उस स्थिति में भी पॉलिसी रद्द हो सकती है।