कौशांबी। उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले में एक भक्त ने आस्था के वशीभूत होकर मंदिर में देवी की प्रतिमा के समक्ष अपनी जीभ ब्लेड से काटकर अर्पित कर दी। पुलिस ने शनिवार को बताया कि देश भर में मौजूद हिंदू आस्था के 51 शक्तिपीठों में शामिल कौशांबी स्थित शीतला देवी धाम कड़ा में सुबह दर्शन के लिए पत्नी के साथ आये संपत राम ने ब्लेड से जीभ काटकर देवी के चरणों में समर्पित कर दी। 

ये भी पढ़ेंः भाजपा शासन में संसदीय लोकतंत्र खतरे में : विपक्ष के नेता माणिक सरकार

इस घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने तत्काल घायल अवस्था में संपत राम को जिला अस्पताल भिजवाया, जहां उसे उपचार के लिए भर्ती करा दिया गया है। पुलिस के अनुसार जिले के पश्चिम शरीरा थाना क्षेत्र के पूरब शरीरा गांव का निवासी संपत राम (38 साल) पुत्र दुर्गा सरोज शनिवार को अपनी पत्नी के साथ कड़ा धाम आया हुआ था। 

ये भी पढ़ेंः खुशखबरीः सरकारी कॉलेजों में सभी छात्राओं को मुफ्त शिक्षा प्रदान करेगी इस राज्य की सरकार

गंगा स्नान करने के बाद पति पत्नी शीतलादेवी मंदिर पहुंचे। मंदिर में दोनों देवी के दर्शन पूजन कर नीचे उतर रहे थे, तभी संपत राम ने अचानक अपनी जेब से ब्लेड निकाल कर अपने ही हाथ से जीभ काट ली। उसकी पत्नी जब तक कुछ समझ पाती, इससे पहले ही उसने कटी हुयी जीभ देवी मां की प्रतिमा पर समर्पित कर दी। पूरे इलाके में इस घटना की चर्चा जोरों पर है।