करवा चौथ (Karwa Chauth 2021) का व्रत सुहागिन महिलाओं के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है। इस दिन महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए निर्जला व्रत करती हैं। इस बार Karwa Chauth रविवार 24 अक्टूबर 2021 को पड़ रहा है। लेकिन यह व्रत बहुत नियम और सावधानी से किया जाता है और इस दौरान कई काम ऐसे होते हैं जो नहीं करने चाहिए। जानिए सबकुछ—


यह भी पढ़ें— सिर्फ बिस्तर पर सोने की नौकरी दे रही ये कंपनी, सैलरी 25 लाख रुपये, यहां करें आवेदन


— करवा चौथ के ज्यादा नहीं सोएं क्योंकि व्रत की शुरुआत सूर्योदय के साथ ही हो जाती है।
— पूजा-पाठ में भूरे और काले रंग को अशुभ माना जाता है। ऐसे में इस दिन लाल रंग के कपड़े ही पहनें क्योंकि लाल रंग प्यार का प्रतीक माना जाता है।
— खुद न सोने के अलावा इस दिन महिलाओं को घर के किसी भी सोते हुए सदस्य को नहीं उठाएं। इस दिन सोते हुए व्यक्ति को नींद से उठाना अशुभ होता है।
— सास की दी गई सरगी करवाचौथ पर शुभ होती है। व्रत शुरू होने से पहले सास अपनी बहू को कुछ मिठाइयां, कपड़े और श्रृंगार का सामान देती है। सरगी का भोजन करें और भगवान की पूजा करके निर्जला व्रत का संकल्प लें।
— व्रत रखने वाली महिलाएं अपनी वाणी पर नियंत्रण रखें। महिलाओं को घर में किसी बड़े का अपमान नहीं करना चाहिए।
— शास्त्रों के अनुसार करवा चौथ व्रत के दिन महिलाओं को पति से झगड़ा नहीं करना चाहिए।
— करवाचौथ के व्रत के दिन सफेद चीजें दान नहीं करें। जैसे सफेद कपड़े, दूध, चावल, दही और सफेद मिठाई दान न करें।
— करवा चौथ के दिन नुकीली चीजों का इस्तेमाल नहीं करें। जैसे सुई-धागे का काम, कढ़ाई, सिलाई या बटन टाकने आदि।

करवा चौथ शुभ मुहूर्त (Karwa Chauth shubh muhurat)
करवाचौथ के दिन रोहिणी नक्षत्र में चांद निकलेगा और पूजन होगा। कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि इस साल 24 अक्टूबर 2021, रविवार सुबह 3 बजकर 1 मिनट पर शुरू होगी, जो अगले दिन 25 अक्टूबर को सुबह 5 बजकर 43 मिनट तक रहेगी। इस दिन चांद निकलने का समय 8 बजकर 11 मिनट पर है। पूजन के लिए शुभ मुहूर्त 24 अक्टूबर 2021 को शाम 06:55 से लेकर 08:51 तक रहेगा।