कर्नाटक के यादगीर जिले के एक आवासीय स्कूल के प्रिंसिपल (Karnataka School Principal ) का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। प्रिंसिपल को छात्राओं का यौन उत्पीड़न (sexual harassment of girl students) करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। आरोपी की पहचान यादगीर के पास वर्कनल्ली स्थित कित्तूर रानी चेन्नम्मा आवासीय विद्यालय (Kittur Rani Chennamma Residential School) के प्रधानाचार्य हयालप्पा के रूप में हुई है।

पुलिस के मुताबिक, हयालप्पा 10वीं की परीक्षा में अच्छे अंक का वादा कर छात्राओं का यौन उत्पीड़न (sexual harrasment) करता था। उन्होंने लड़कियों को उनके साथ सहयोग करने की धमकी दी थी। पुलिस ने कहा कि उन्होंने हॉस्टल मेस में खाना खाने से रोककर उन लोगों को भी परेशान किया, जिन्होंने उनकी इस बात का विरोध किया था। जो छात्र अब उनकी यातना सहन नहीं कर सकी, उन्होंने उपायुक्त रागप्रिय को आठ पेज की शिकायत दर्ज कराई है। छात्रों की व्यथा सुनने के बाद, रागप्रिय ने अपने अधिकारियों को आरोपी के खिलाफ तुरंत शिकायत दर्ज करने का निर्देश दिया है।

सिटी महिला थाने में शिकायत के बाद पुलिस ने प्राचार्य को गिरफ्तार (School Principal Arrested) कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। यागदगीर के अधीक्षक एस.बी. वेदमूर्ति ने कहा कि आरोपियों ने छात्राओं को इंटर्नल में अच्छे अंक दिलाने का वादा कर प्रताडि़त किया और उन्हें सहयोग करने की धमकी दी। पुलिस ने उनके खिलाफ प्रोटेक्शन ऑफ चिल्ड्रन फ्रॉम सेक्सुअल ऑफेंस (पोक्सो) एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।