कर्नाटक राज्य सड़क परिवहन कंपनी (केएसआरटीसी) (KSRTC ) द्वारा बच्चों को गोद लेने वाली महिला कर्मचारियों को मातृत्व अवकाश (maternity leave) देने के फैसले की काफी सराहना की गई है। केएसआरटीसी के प्रबंध निदेशक शिवयोगी कलासाद ने इस संबंध में एक अधिसूचना जारी कर बच्चों को गोद लेने वाली महिला कर्मचारियों को 180 दिनों का मातृत्व अवकाश (maternity leave) दिया है।

अभी तक, बच्चों को गोद लेने वाले माता-पिता को अलग-अलग अवकाश लेना पड़ता था और यह हालिया आदेश बच्चों को गोद लेने वाले माता-पिता को भी बायोलॉजिकल माताओं (biological mother) को दिए गए मातृत्व अवकाश का लाभ उठाने में सक्षम बनाता है। दत्तक माता गोद लेने के एक वर्ष के भीतर या गोद लिए हुए बच्चे के एक वर्ष का होने से पहले छुट्टी का लाभ उठा सकती है। 

गोद लेने वाले माता- पिता के साथ बायोलॉजिकल माता-पिता (biological parents) के समान व्यवहार करने के राज्य सरकार के निर्देश के अनुसार निर्णय लिया गया था। कर्नाटक सरकार ने इससे पहले महिलाओं के लिए 180 दिन का मातृत्व अवकाश और पिता को 15 दिन का पितृत्व अवकाश (paternity leave) देने का आदेश जारी किया था।