भारत ने दुनिया को बहुत ही तूफानी बल्लेबाज दिए हैं। कुछ बल्लेबाज तो ऐसे हैं जो अपने पूरे करियर के दौरान रन आउट नहीं हुए। ऐसे में IPL 2022 शुरू होने के माके पर हम आपको ऐसे ही धाकड़ भारतीय खिलाड़ी के बारे बता रहे हैं। इतना ही नहीं बल्कि इस धांसू बल्लेबाज के सामने विरोधी टीमें थर-थर कांपती थीं।

यह भी पढ़ें : यूक्रेन की तरह मणिपुर में फटने वाले थे बम, AssamRifles ने नाकाम किया आतंकियों का हमला

भारत में क्रिकेट को एक नई ऊंचाईयों पर ले जाने वाला यह खिलाड़ी कपिल देव है। कपिल अपने पूरे टेस्ट करियर में कभी रन आउट नहीं हुए हैं। Kapil dev भारतीय फैंस के जेहन में ये नाम हमेशा ही बना रहेगा। कपिल देव की कप्तानी में ही Team India ने 1983 में वेस्टइंडीज टीम को हराकर पहले वनडे वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाया था। कपिल देव ने जिम्बाब्वे के खिलाफ 175 रनों की आतिशी पारी खेली थी। कपिल देव हमेशा ही अपनी धाकड़ बल्लेबाजी और कातिलाना गेंदबाजी के लिए जाने जाते थे। वह विकेट के बीच बहुत ही तेजी से दौड़ लगाते थे, लेकिन ये दिग्गज बल्लेबाज कभी भी रन आउट नहीं हुआ।

यह भी पढ़ें : इस राज्य के मुख्यमंत्री ने दिखाई हिम्मत, पूरे विधायकों के साथ देखी The Kashmir Files

कपिल देव भारत के महान खिलाड़ियों में से एक हैं। उनकी वजह से भारत में क्रिकेट इतना लोकप्रिय हु्आ था। कपिल देव ने भारत के लिए 1978 में पाकिस्तान के खिलाफ अपना टेस्ट डेब्यू किया था। उन्होंने भारत के लिए 131 टेस्ट मैचों में 5248 रन और 434 विकेट लिए हैं। वहीं, वनडे क्रिकेट में कपिल देव ने 3000 से ज्यादा रन और 253 विकेट चटकाए हैं। यहां तक वह इतने खतरनाक बॉलर थे कि विरोधी टीमें उनसे खौफ खाती थीं. कपिल देव ने 1978 से लेकर 1994 तक के अपने 16 साल के करियर में एक भी नो बॉल नहीं फेंकी।