अभिनेत्री कंगना रानौत (actress kangana ranaut) के ताजा बयान के बाद शुरू हुआ विवाद अभी थमने का नाम नहीं ले रहा है। दरअसल, कंगना ने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा था कि भारत को 2014 में असली आजादी मिली थी और 1947 में जो हासिल हुआ वह भीख थी। इस बयान के बाद विवाद शुरू हुआ। अब कंगना (kangana ranaut) के बयान पर बीजेपी नेता वरुण गांधी (Varun Gandhi) ने कहा कि इस सोच को मैं पागलपन कहूं या फिर देशद्रोह?

अब कंगना ने इस ट्वीट को इंस्टाग्राम स्टोरी में शामिल करते हुए जवाब दिया है। कंगना ने लिखा है कि हालांकि, मैंने साफ-साफ यह बताया था कि 1857 में आजादी की पहली लड़ाई (1857 Revolution) हुई, जिसे दबा दिया गया। इसके बाद ब्रिटिश हुकूमत का अत्याचार और क्रूरता बढ़ गई। लगभग एक सदी बाद भीख के कटोरे में हमें आजादी दे दी गई...जा और रो अब। उधर, कांग्रेस (Congress) ने कंगना की टिप्पणी को ‘देशद्रोह’ करार देते हुए मांग की है कि सरकार उन्हें अपमान करने के लिए हाल ही दिए गए पद्मश्री पुरस्कार (Padma Shri Award) को वापस ले ले।