अरुणाचल प्रदेश के पूर्व राज्यपाल माता प्रसाद को जुगल किशोर स्मृति पुरस्कार सम्मान से सम्मानित किया गया। यह पुरस्कार उन्हें वरिष्ठ रंगकर्मी पद्मश्री राजबिसारिया ने दिया। पुरस्कार में उन्हें 25 हजार धनराशि, शॉल और स्मृति पत्र भी दिया गया। यह आयोजन अलग दुनिया की ओर से निशातगंज स्थित कैफी आजमी एकेडमी सभागार में हुआ। इस अवसर पर शहर के कई साहित्यकार, नाट्यकर्मी और संस्कृतिप्रेमी मौजूद रहे।


अलग दुनिया के महासचिव केके वत्स ने कहा कि जुगल किशोर स्मृति नाट्य पुरस्कारए समिति की ओर से हर साल दिया जाता है। इस बार दलित मुद्दों पर 20 से ज्यादा नाटक लिखने वाले अरुणाचल प्रदेश के पूर्व राज्यपाल माता प्रसाद इसके लिए चुने गए। माता प्रसाद ने 30 से ज्यादा दलित राजनीतिक, साहित्यिक और सांस्कृतिक मुद्दों पर किताबें लिखी हैं। कार्यक्रम में राकेश सूर्यमोहन कुलश्रेष्ठ, नाट्य लेखक राजेश कुमार, कहानीकार किरन सिंह, प्रो रमेश दीक्षित मौजूद रहे।