जजों और वकीलों को काले गाउन से मुक्ति मिल सकती है। जी हां, लंबा चौड़ा काला गाउन पहनकर कोर्ट में दिखने वाले जज और वकील अब सादा सफेट शर्ट में नजर आ सकते हैं। इसके लिए सुनवाई हो चुकी और फैसला जल्द ही दिया जा सकता है।

दरअसल  सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस ने विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये हो रही सुनवाई के दौरान संकेत दिया है कि कोरोना महामारी के फैलाव को रोकने के लिए जल्दी ही निर्देश जारी होगा जिसमें सुप्रीम कोर्ट के वकीलों और जजों से कहा जाएगा कि वह काला कोट अथवा गाउन न पहनें।
सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस एसए बोबडे ने मामले की सुनवाई के दौरान सीनियर वकील कपिल सिब्बल से कहा कि जल्दी ही सुप्रीम कोर्ट की ओर से रिलीज जारी किया जाएगा, जिसमें रोब्स और गाउन पहनने से छूट होगी क्योंकि कोरोना महामारी के फैलाव को रोकने के लिए जरूरी है। वाट्सएप पेमेंट सर्विस को रोकने के लिए दाखिल याचिका पर सुनवाई के दौरान चीफ जस्टिस ने उक्त टिप्पणी की।
मामले की सुनवाई के दौरान सीनियर एडवोकेट कपिल सिब्बल ने कहा कि विडियो कॉन्फ्रेंसिंग की सुनवाई के दौरान जज व्हाइट शर्ट में हैं । तब चीफ जस्टिस ने कहा कि कोरोना वायरस का खतरा गाउन आदि में ज्यादा है। साथ ही कहा कि जल्दी ही इस बारे में निर्देश जारी होगा कि वकीलों और जजों को सुनवाई के दौरान गाउन अथवा रोब्स (तय पोशाक) पहनने से छूट होगी।