देशभर में सीएए और एनआरसी को लेकर मच बवाल के बीच आज झारखंड में विधानसभा चुनाव के नतीजे आ रहे हैं। झारखंड में यूपीए और एनडीए गठबंधन के बीच कड़ी टक्कर दिखाई दे रही है। भाजपा ने अपने पांच साल के शासन के आधार पर वोट मांगे। वहीं कांग्रेस व झामुमो ने भाजपा शासन के खिलाफ वोट मांगे। 

भाजपा के सीएम रघुवर दास ने सारे अनुमानों को झुठलाते हुए भाजपा के प्रदर्शन को दोहराया है। रुझानों में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभर रही है। वहीं कांग्रेस-झामुमो और राजद का गठबंधन भी भाजपा को कड़ी टक्कर दे रहा है। इसके अलावा जेवीएम और एजेएसयू ने भी रुझानों में बढ़त बनाकर किंगमेकर बनने की ओर कदम बढ़ाए हैं। अगर नतीजें इसी प्रकार के रहते हैं तो झारखंड में बाबूलाल मरांडी और सुदेश महतो किंगमेकर बनकर उभरेंगे। भाजपा ने रुझानों को देखते हुए सहयोगियों को तलाशना शुरू कर दिया है और दूसरे छोटे दलों से बातचीत शुरू कर दी है।

त्रिशंकु विधानसभा के आसार

रुझानों में झारखंड में किसी भी पार्टी को बहुमत का आंकड़ा हासिल होते नहीं दिख रहा है। रुझानों में 41 सीटों तक कोई गठबंधन नहीं पहुंच पाया है और ऐसे में विधानसभा त्रिशंकु रहने के आसार है। 81 सीटों के रुझानों में भाजपा 33 सीटों से साथ, जेएमएम गठबंधन को 34 सीटों पर आगे है। इसके अलावा आजसू 7 और जेवीएम 4 सीटों पर आगे चल रहे हैं। इसके अलावा 3 सीटों पर निर्दलीय आगे चल रहे हैं।

सरकार गठन की कवायद शुरू

रुझानों के साथ ही झारखंड में सरकार बनाने की कवायद शुरू हो चुकी है। सूत्रों के मुताबिक भाजपा ने आजसू से संपर्क किया है, जिनके बगैर उसे बहुमत का आंकड़ा हासिल होते नहीं दिख रहा है। साथ ही भाजपा की ओर से जेवीएम से भी संपर्क किया गया है। भाजपा के प्रभारी ओम माथुर स्वयं रांची में मौजूद हैं और उन्होंने भाजपा की सरकार बनाने के प्रयास तेज कर दिए हैं। ओम माथुर आज राज्य के सीएम रघुवर दास से मुलाकात करेंगे।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360