झारखंड विधानसभा के लिए चुने गए 81 विधायकों में 34 (42 प्रतिशत) ऐसे हैं जिनके खिलाफ बलात्कार, हत्या, हत्या का प्रयास, अपहरण और महिलाओं के खिलाफ अपराध जैसे संगीन मामले दर्ज हैं। चुनावों का विशलेषण करने वाली प्रमुख संस्था एसोसिएशन फार डेमोक्रेटिक रिफाम्र्स (एडीआर) ने झारखंड विधानसभा चुनाव में विजयी उम्मीदवारों के स्वयं घोषित शपथपत्रों की समीक्षा की है। 

एडीआर की तरफ से जारी इस विशलेषण में कहा गया है 81 में आधे से अधिक 44 (54 प्रतिशत) नव निर्वाचित विधायकों शपथ पत्र में अपराधिक मामलों की जानकारी दी है । पिछली विधानसभा में 55 ( 68 प्रतिशत ) विधायकों के खिलाफ अपराधिक मामले थे । एसोसिएशन के अनुसार 34 विधायक (42 प्रतिशत) ऐसे हैं, जिन्होंने अपने शपथपत्र में बलात्कार, हत्या, हत्या का प्रयास, अपहरण और महिलाओं के खिलाफ अपराध आदि जैसे संगीन मामले होने की बात स्वीकार की है । 

इस बार विधानसभा में करोड़पति विधायकों की संख्या में खासी बढ़ोतरी हुई है। नये विधायकों में दो तिहाई से अधिक 69 प्रतिशत अर्थात 56 ऐसे हैं जो करोड़पति हैं जबकि पिछली विधानसभा में 41 विधायक (51 प्रतिशत) करोड़पति थे। नयी विधानसभा के विधायकों की औसत परिसंपत्ति पिछली बार के मुकाबले दुगने से अधिक 3.87 करोड़ रुपए है। यह पिछली बार के 1.84 करोड़ रुपए थी । इस मर्तबा विधानसभा में महिलाओं की संख्या में मामूली बढ़ोतरी हुई है। कुल 81 विधायकों में 10 अर्थात 12 प्रतिशत महिला विधायक है। पिछली बार आठ महिला विधायक थीं।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360