झारखंड में विधानसभा की 81 में से तृतीय चरण की 17 सीटों के लिए कड़ी सुरक्षा-व्यवस्था के बीच आज सुबह सात बजे मतदान शुरू हो गया। राज्य निर्वाचन कार्यालय सूत्रों ने यहां बताया कि तीसरे चरण के लिए कोडरमा, बरही, बरकागांव, रामगढ़, मांडू, हजारीबाग, सिमरिया (सुरक्षित), धनवार, गोमिया, बेरमो, ईचागढ़, सिल्ली, खिजरी (सु), रांची, हटिया और कांके (सु) में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच आज सुबह सात बजे मतदान शुरू हो गया, जो शाम पांच बजे तक चलेगा। इन सतरह सीटों में से रामगढ़, रांची, हटिया और कांके सीट के लिए सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। 

वहीं, कोडरमा, बरही, मांडू, हजारीबाग, सिमरिया, बडक़ागांव, धनवार, गोमियां, बेरमो, ईचागढ़, सिल्ली और खिजरी सीट के लिए सुबह सात बजे से अपराह्न तीन बजे तक मतदान होगा। जिन विधानसभा सीटों के लिए मतदान की समाप्ति का समय अपराह्न तीन और पांच बजे तक है, वहां उस समय तक मौजूद सभी मतदाता मतदान कर सकेंगे। इस चरण में 32 महिला समेत कुल 309 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं। इनमें से सबसे अधिक 31 प्रत्याशी ईचागढ़ और सबसे कम 12-12 प्रत्याशी रांची और कांके विधानसभा सीट के लिए हैं। इनके भागय का फैसला 5606743 मतदाता आज शाम बजे तक 7016 मतदान केंद्रों पर अपने मताधिकारी का प्रयोग कर इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में कैद कर देंगे। मतदाताओं में 2932657 पुरुष, 2673991 महिला और 95 थर्ड जेंडर मतदाता शामिल हैं। शहरी क्षेत्र में 1293 और ग्रामीण इलाकों में 5723 मतदान केंद्र बनाए गए हैं। 2014 मतदान केंद्रों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है वहीं 329 आदर्श मतदान केंद्र और 44 महिला संचालित मतदान केंद्र बनाए गए हैं। 

राज्य निर्वाचन कार्यालय सूत्रों ने बताया कि 17 सीटों पर होनेवाले मतदान को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। सभी मतदान केंद्रों पर जवान तैनात किए गए हैं और लगातार गश्ती की जा रही है। उन्होंने बताया कि इस चरण में जिन विधानसभा सीटों के लिए चुनाव हो रहे हैं, उनमें से कई नक्सल प्रभावित हैं। इस वजह से अति संवेदनशील और संवेदनशील मतमदान केंद्रों की सुरक्षा के लिए सुरक्षा बलों को तैनात किया गया है। मतदान केंद्रों को नक्सल और गैर नक्सल आधार पर संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों की श्रेणी में रखा गया है। 

उन्होंने बताया कि नक्सल प्रभावित इलाकों में 1008 अति संवेदनशील और 543 संवेदनशील मतदान केंद्र हैं वहीं गैर नक्सल संवेदनशील मतदान केंद्रों की संख्या 1119 और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों की संख्या 2672 है। इनके अलावा सामान्य मतदान केंद्रों की संख्या 1674 चिन्हित की गई है। संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों में सुरक्षा बल के जवान तैनात किए गए हैं। गौरतलब है कि तीसरे चरण की 17 विधानसभा सीटों के लिए होने वाले चुनाव में जिन दिग्गजों की प्रतिष्ठा दाव पर लगी है उनमें शहरी विकास मंत्री सी. पी. ङ्क्षसह, मानव संसाधन विकास मंत्री नीरा यादव, झारखंड के प्रथम मुख्यमंत्री एवं झारखंड विकास मोर्चा (झाविमो) के अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी तथा पूर्व उप मुख्यमंत्री एवं ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन (आजसू) सुप्रीमो सुदेश महतो शामिल हैं। 

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360