झारखंड में विधानसभा की 81 में से दूसरे चरण की बीस सीटों के लिए अभूतपूर्व सुरक्षा व्यवस्था के बीच आज सुबह सात बजे मतदान शुरू हो गया। राज्य निर्वाचन कार्यालय सूत्रों ने यहां बताया कि दूसरे चरण के लिए सात जिलों पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम, सरायकेला-खरसावां, रांची, खूंटी, गुमला और सिमडेगा की 20 विधानसभा सीटों बहरागोड़ा, घाटशिला (सु), पोटका (सु), जुगसलाई (सु), जमशेदपुर पूर्व, जमशेदपुर पश्चिम, सरायकेला (सु), चाईबासा (सु), मझगांव (सु), जगन्नाथपुर (सु), मनोहरपुर (सु), चक्रधरपुर (सु), खरसावां (सु), तमाड़ (सु), तोरपा (सु), खूंटी (सु), मांडर (सु), सिसई (सु), सिमडेगा (सु) और कोलिबेरा में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच आज सुबह सात बजे मतदान शुरू हो गया, जो अपराह्न तीन बजे तक चलेगा। 

इन बीस सीटों में जमशेदपुर पूर्व और जमशेदपुर पश्चिम सीट के लिए सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। वहीं, बाकी 18 विधानसभा सीटों के लिए सुबह सात बजे से अपराह्न तीन बजे तक मतदान होगा। जिन विधानसभा सीटों के लिए मतदान की समाप्ति का समय अपराह्न तीन और पांच बजे तक है, वहां उस समय तक मौजूद सभी मतदाता मतदान कर सकेंगे। मतदान को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। सभी मतदान केंद्रों में जवान तैनात किए गए हैं और लगातार गश्त की जा रही है। उन्होंने बताया कि इस चरण में जिन विधानसभा सीटों के लिए चुनाव हो रहा है, उसमें से कई नक्सल प्रभावित हैं। इस वजह से अति संवेदनशील और संवेदनशील मतदान केंद्रों की सुरक्षा के लिए सशस्त्र बल को तैनात किया गया है। पुलिस गश्त को लेकर आवश्यक निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

मतदान केंद्रों को नक्सल और गैर नक्सल आधार पर संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों में रखा गया है। उन्होंने बताया कि नक्सल प्रभावित इलाकों में 949 अति संवेदनशील और 762 संवेदनशील मतदान केंद्र हैं। वहीं, गैर नक्सल संवेदनशील मतदान केंद्रों की संख्या 2005 और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों की संख्या 762 है। इनके अलावा सामान्य मतदान केंद्रों की संख्या 1588 चिन्हित की गई है। संवेदनशील और अति संवेदनशील मतदान केंद्रों में सशस्त्र बल के जवान तैनात किए गए हैं। इन विधानसभा क्षेत्रों के चुनाव मैदान में 231 पुरुष और 29 महिला समेत कुल 260 प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे हैं। कुल 6066 मतदान केंद्र बनाए गए हैं, जिनमें 5050 ग्रामीण क्षेत्र में तथा 1016 शहरी क्षेत्र में हैं। इस चरण के लिए 94 सखी बूथ एवं 337 मॉडल मतदान केंद्र बनाए गए हैं। कुल 1612 बूथों पर वेबकाङ्क्षस्टग की व्यवस्था की गई है। 

जमशेदपुर पूर्वी और जमशेदपुर पश्चिमी सीट से सबसे ज्यादा 20-20 प्रत्याशी तो सरायकेला से सबसे कम सात उम्मीदवार खड़े हैं। पोटका, चाईबासा और मनोहरपुर सीट से सबसे ज्यादा तीन-तीन महिला उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। दूसरे चरण के विधानसभा चुनाव में जिन दिग्गजों की प्रतिष्ठा दाव पर लगी है उनमें मुख्यमंत्री रघुवर दास, विधानसभा अध्यक्ष दिनेश उरांव, ग्रामीण विकास मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा, जल संसाधन मंत्री रामचंद्र सहिस, सरयू राय, झारखंड भाजपा के अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ, पूर्व मंत्री चंपई सोरेन, बन्ना गुप्ता, जोबा मांझी, पूर्व गृह सचिव जेबी तुबिद, प्रदीप कुमार बलमुचू, कुणाल षाड़ंगी, दीपक बिरुआ के साथ ही आत्मसमर्पण कर चुके दुर्दांत नक्सली राजा पीटर और कुंदन पाहन शामिल हैं।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360