जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने न्याय के साथ विकास के अपने संकल्प को दुहराते हुए आज कहा कि पिछले 15 वर्ष तक एक ही परिवार के शासनकाल में राज्य की क्या स्थिति थी किसी से छुपी नहीं है लेकिन उनकी सरकार ने प्रदेश से जंगलराज समाप्त कर कानून का राज स्थापित किया है।


कुमार ने यहां के ऐतिहासिक गांधी मैदान में पार्टी के राज्यस्तरीय कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी का नाम लिए बगैर कहा कि उनकी सरकार ने बिहार से जंगलराज हटाकर कानून का राज स्थापित किया है।


पिछले 15 वर्ष तक एक ही परिवार के शासनकाल में प्रदेश की क्या स्थिति थी और आज क्या स्थिति है यह किसी से छुपा नहीं है। उन्होंने कहा कि कल्पना मात्र से उस गुजरे हुए दौर को समझा जा सकता है। जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने विपक्षी दलों के नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें कुछ पता नहीं होता और बोलते रहते हैं।


विपक्षी दल के नेता बेवजह बयान देते रहते हैं और जुबान चलाने में यकीन करते हैं, कुछ देखते नहीं। उन्होंने कहा कि उन्हें वोट की चिंता नहीं है जिसको देना है देंगे लेकिन अल्पसंख्यकों के लिए क्या काम किया गया तथा राज्य की बेहतरी के लिए क्या काम किया केवल याद कर लेंगे। साथ ही यह भी याद करना जरूरी होगा कि उनके पूर्व 15 वर्ष पहले की सरकार ने क्या काम किया।