पटना। बिहार में राज्यसभा की एक मात्र सीट के लिए 30 मई को होने जा रहे उपचुनाव में सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के घटक जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के उम्मीदवार अनिल हेगड़े ने आज नामजदगी का पर्चा दाखिल किया। बिहार विधानसभा के सचिव एवं निर्वाचन पदाधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह के सभा स्थित कक्ष में गुरुवार को हेगड़े ने अपना नामांकन दाखिल किया। 

यह भी पढ़े : एक के बाद एक शानदार पारियों के चलते बढ़ गईं चेतेश्वर पुजारा की टीम इंडिया में वापसी की उम्मीदें


हेगड़े के नामांकन दाखिल किए जाने के समय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह, जदयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा के साथ ही नीतीश मंत्रिमंडल के जदयू और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) कोटे के अधिकांश मंत्री भी मौजूद थे। उपचुनाव में विपक्षी दलों की ओर से किसी को उम्मीदवार नहीं बनाया गया है इसलिए जदयू के हेगड़े का निर्विरोध निर्वाचन तय है। 

यह भी पढ़े : Vat Savitri Vrat 2022: इस व्रत को करने से होती है अखंड सौभाग्य और संतान की प्राप्ति , भीगे चने खाने की भी है परंपरा

हेगड़े कर्नाटक मूल के रहने वाले हैं। इस मौके पर मुख्यमंत्री कुमार ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि हेगड़े हम सब लोगों के उम्मीदवार हैं। उन्होंने समाजवादी नेता जॉर्ज फर्नांडिस के साथ बचपन से ही काम किया और फिर जदयू से जुड़कर लगातार काम करते रहे और कभी भी कोई इच्छा प्रकट नहीं की कि उन्हें कुछ मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि श्री फर्नांडिस के नेतृत्व में हम सब लोग काम करते रहे और जब वह नहीं रहे तब भी हेगड़े पार्टी के लिए काम करते रहे।