लालू यादव की पार्टी राष्ट्रीय जनता दल और उनके परिवार में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। पहले लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप ने खुलेआम बिहार प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह को निशाने पर लिया। अब जगदानंद ने लालू के लाल तेज प्रताप को बड़ा झटका देकर इसका बदला लिया है। तेज प्रताप यादव के करीबी आकाश यादव की छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष पद से छुट्टी कर दी। उनकी जगह गगन कुमार को छात्र राजद का प्रदेश अध्यक्ष बना दिया है। आकाश यादव को अध्यक्ष बनाने को लेकर भी तेज प्रताप यादव और जगदानंद सिंह के बीच तनातनी की खबरें सामने आई थीं।

तेज प्रताप के निशाने पर लेने के बाद एक हफ्ते से जगदानंद कार्यालय नहीं आ रहे थे। बिहार के सियासी गलियारों में इस बात की चर्चा थी कि तेज प्रताप यादव के बयानों से जगदानंद सिंह नाराज हैं और वह अपनी वर्तमान जिम्मेदारियों से मुक्त होना चाहते हैं। यहां तक कि दूसरे दलों की तरफ से जगदानंद को ऑफर भी मिलने लगे थे। करीब एक हफ्ते के बाद बुधवार को जगदानंद सिंह आरजेडी कार्यालय पहुंचे और धमाका कर दिया। इससे उन सियासी कयासबाजियों पर विराम लग गया, जिसमें यह कहा जा रहा था कि वे राजद छोड़ देंगे या प्रदेश अध्यक्ष पद से मुक्त हो जाएंगे। 

राजद कार्यालय जाने से पहले बुधवार की दोपहर जगदानंद सिंह राबड़ी देवी के सरकारी आवास पर पहुंचे। यहां तेजस्वी यादव से मुलाकात की। लगभग 2 घंटे तक तेजस्वी यादव और जगदानंद सिंह के बीच बातचीत हुई। तेजस्वी यादव से मुलाकात के बाद जगदानंद सिंह बिना मीडिया से बात किए निकल गए। लेकिन आरजेडी दफ्तर पहुंचते ही वे एक्शन में आ गए और मीटिंग बुलाई। आरजेडी कार्यालय में तेजस्वी और जगदानंद के बीच बैठक के बाद तेज प्रताप यादव के करीबी आकाश यादव को छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष पद से छुट्टी कर दी गई और गगन कुमार को छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष बनाने के फैसले पर मुहर लगाई गई। 

राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने गगन यादव को छात्र राजद का प्रदेश अध्यक्ष मनोनीत किया है। इसका पत्र भी जारी कर दिया गया है। प्रदेश अध्यक्ष ने छात्र राजद को मजबूत बनाने के लिए गगन यादव पर भरोसा जताया है। गगन अभी पटना लॉ कॉलेज में प्रथम वर्ष के छात्र हैं। पटना विश्वविद्यालय की छात्र राजनीति में गगन सक्रिय रहे हैं। छात्र हितों के लिए लगातार आवाज उठाते रहे हैं।