बॉलीवुड अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीज (jacqueline fernandez) को करोड़पति ठग सुकेश चंद्रशेखर (Sukesh Chandrasekhar) के खिलाफ दर्ज मनी लॉन्ड्रिंग रोकथाम मामले में 50 सवालों का सामना करना पड़ेगा। गवाह के तौर पर जैकलीन अपना बयान दर्ज कराएगी। यह पूछताछ का एक और दौर होगा। जैकलीन को पहले संबंधित अथॉरिटी ने मुंबई एयरपोर्ट (mumbai airport) पर रोका था। मुंबई एयरपोर्ट पर उनसे घंटों पूछताछ की गई और फिर उन्हें छोड़ दिया गया।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) (ED) ने एक बार फिर उन्हें चल रही जांच में शामिल होने के लिए समन भेजा। वह बुधवार को ईडी के सामने पेश होंगी। ईडी के अधिकारी केंद्र दिल्ली में एमटीएनएल कार्यालय में उसका बयान दर्ज करेंगे। पूछताछ पांच घंटे से अधिक समय तक चल सकती है। ईडी के अनुरोध पर संबंधित प्राधिकरण द्वारा अभिनेत्री के खिलाफ एक एलओसी (लुक आउट सर्कुलर) (look out circular) जारी किया गया था। एजेंसी को संदेह था कि वह देश छोड़कर भाग सकती है और इसलिए उन्होंने संबंधित प्राधिकरण को एक पत्र लिखा था।

रविवार शाम वह दिल्ली आने के लिए फ्लाइट पकड़ने ही वाली थी कि उन्हें मुंबई एयरपोर्ट (mumbai airport) पर रोक दिया गया। ईडी ने शनिवार को पीएमएलए कानून के तहत आरोपपत्र दाखिल किया था जिसमें जैकलीन (jacqueline fernandez) समेत कुछ बॉलीवुड अभिनेताओं को गवाह बनाया गया था। अदालत ने आरोपपत्र दाखिल होने के तुरंत बाद उसका संज्ञान लिया था और एजेंसी से सभी आरोपियों को आरोप पत्र की प्रति उपलब्ध कराने को कहा था। चार्जशीट मामले में अगली तारीख 13 दिसंबर है। ईडी के अधिकारी इस मामले पर चुप्पी साधे हुए हैं।

कहा जा रहा है कि 200 करोड़ रुपये के मनी लॉन्ड्रिंग केस में आरोपी सुकेश चंद्रशेखर की जैकलीन फर्नांडीज (jacqueline fernandez) से गहरी दोस्‍ती थी। जानकारी के मुताबिक सुकेश चंद्रशेखर (Sukesh Chandrasekhar) और जैकलीन फर्नांडीज ने जनवरी 2021 से एक-दूसरे से बात करनी शुरू की थी। सुकेश चंद्रशेखर ने जैकलीन को कई महंगे गिफ्ट दिए थे। सुकेश ने जैकलीन के लिए 10 करोड़ रुपये से ज्यादा के महंगे तोहफे खरीदे थे। इस महंगे गिफ्ट्स में आभूषण, हीरे जड़ित आभूषण सेट, क्रॉकरी, 4 फारसी बिल्लियां (एक बिल्ली की कीमत लगभग 9 लाख रुपये) है। इसके अलावा 52 लाख रुपये का एक घोड़ा भी दिया था।