चिनार कोर ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर लाइट इन्फैन्ट्री (जेकेएलआई) रेजीमेंट के राइफल मैन जावेद इकबाल खान को एवरेस्ट की चोटी फतेह कर लेने पर बधाई दी है। खान ने एक जून को यह गौरवशाली उपलब्धि हासिल कर नया इतिहास रचा था। 

इससे पहले इसी रेजीमेंट के हवलदार मोहम्मद रफीक ने वर्ष 2013 में दुनिया की इस सबसे ऊंची चोटी पर तिरंगा फहराया था। चिनार कोर ने सोमवार को कहा कि 'कश्मीर के पुत्र' दोनों सैनिकों ने इन उपलब्धियों से भारतीय सेना को गौरवान्वित किया है। 

चिनार कोर के आधिकारिक ट्विटर एकाउंट पर भारतीय सेना ने कहा, 'राइफल मैन जावेद खान ने एक जून 2021 को माउंट एवरेस्ट की चोटी पर पहुंच कर इतिहास रच दिया। इससे पहले हवलदार मोहम्मद रफीक ने 2013 में दुनिया के सबसे ऊंचे स्थान पर भारतीय तिरंगा फहरा कर भारतीय सेना को गौरवान्वित किया था। दोनों सैनिक कश्मीर के 'निडर पुत्र' हैं।'