इटली में कोरोना वायरस के प्रकोप के मद्देनजर इस पर नियंत्रण के लिए 1.6 करोड़ लोगों को अलग-थलग रखा गया है। सरकार ने पिछले सप्ताह सभी स्कूलों और विश्वविद्यालयों को 10 दिन के लिए बंद करने की घोषणा की थी। प्रधानमंत्री गियुसेपे कोंटे ने कोरोना वायरस पर काबू पाने तक सभी निजी और सार्वजनिक आयोजनों को स्थगित करने का आदेश दिया था। 

सरकार ने इन उपायों को तीन अप्रैल तक लागू रखने का आदेश दिया है और लोगों को एक स्थान से दूसरे स्थान की यात्रा के लिए विशेष मंजूरी लेनी होगी। यूरोप में कोरोना वायरस संक्रमण के सर्वाधिक मामले इटली में मिले हैं और संक्रमितों की संख्या बढक़र 4636 पर पहुंच गयी और मृतकों की संख्या बढक़र 230 से अधिक हो गयी है। 

इटली में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना से 50 से अधिक लोगों की मौत हो गयी है। मोडेना, परमा, पियासेंजा, रेजियो एमिलिया, रिमिनी, पेसारो और उरबिनो, एलेसेंड्रिया, एस्टी, नोवारा, वर्बानो क्यूसियो ओस्सोला, वर्सेली, पादुआ, ट्रेविसो और वेनिस सभी वायरस से प्रभावित हैं। राष्ट्रीय नागरिक संरक्षण एजेंसी के मुताबिक इटली के सर्वाधिक प्रभावित लोम्बार्डी क्षेत्र में 2742 मामले सामने आये हैं।

अब हम twitter पर भी उपलब्ध हैं। ताजा एवं बेहतरीन खबरों के लिए Follow करें हमारा पेज :  https://twitter.com/dailynews360