इजरायल के रक्षा मंत्री ने चेतावनी देते हुए कहा कि उनका देश ईरान पर हमला करने के लिए तैयार है। उनका यह धमकी समुद्र में एक तेल टैंकर पर घातक ड्रोन हमले के बाद आई है, जिसके लिए इजरायल ने तेहरान पर आरोप लगाए थे। पिछले हफ्ते ऑयल टैंकर मर्सर स्ट्रीट पर हुए हमले में दो लोगों की मौत के मामले में इजरायल संयुक्त राष्ट्र में भी ईरान पर कार्रवाई की मांग कर चुका है।

ओमान अरब सागर में हमले का शिकार हुआ टैंकर एक फर्म का था जिसका मालिक एक इजरायली अरबपति है। अमेरिका और ब्रिटेन ने भी इस हमले के लिए ईरान को जिम्मेदार ठहराया है। अपने क्षेत्रीय मिलिशिया सहयोगियों के साथ इस तरह के ड्रोन हमलों की शुरूआत करने वाले ईरान ने ऑयल टैंकर पर हमले में शामिल होने से इनकार किया है। एक न्यूज वेबसाइट से बात करते हुए गैंट्ज ने उस सवाल का जवाब ‘हां’ में दिया जिसमें उनसे पूछा गया था कि क्या इजरायल ईरान पर हमला करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि हम ऐसी परिस्थिति में हैं जहां हमें ईरान के खिलाफ सैन्य कार्रवाई करने की जरूरत है। उन्होंने अपनी बात दोहराते हुए कहा कि दुनिया को अब ईरान के खिलाफ कार्रवाई करने की जरूरत है।

ईरान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सईद खतीबजादेह ने गैंट्ज की धमकी को ‘अंतरराष्ट्रीय कानून का ‘एक और क्रूर उल्लंघन’ और ‘दुर्भावनापूर्ण व्यवहार’ बताया। ट्वीट करते हुए उन्होंने कहा कि ईरान के खिलाफ किसी भी मूर्खतापूर्ण कार्य का निर्णायक जवाब दिया जाएगा। खतीबजादेह ने इजरायल की धमकी के जवाब में कहा, ‘हमारी परीक्षा मत लो।’