फलस्‍तीन के गाजा पट्टी शहर से पिछले तीन दिनों में 1500 से ज्‍यादा रॉकेट दागने वाले उग्रवादी गुट हमास के खिलाफ इजरायल की सेना ने जोरदार पलटवार किया है। इस जवाबी कार्रवाई में हमास को तगड़ा झटका लगा है और उसके 11 कमांडर मारे गए हैं। 

इस खूनी संघर्ष में फलस्‍तीन की ओर से 70 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हुई है। वहीं इजरायल ने कहा है कि उसके 6 नागरिक मारे गए हैं। इस बीच संयुक्‍त राष्‍ट्र ने चेतावनी दी है कि तनाव जारी रहा तो इजरायल और फलस्‍तीन के बीच में पूर्ण युद्ध छिड़ सकता है।

इस संघर्ष में जहां ईरान समर्थक हमास के उग्रवादी गाजा से रॉकेट की बारिश कर रहे हैं, वहीं इजरायल के फाइटर जेट बम बरसा रहे हैं और तोपें आग उगल रही हैं। इजराइल ने बुधवार को हवाई हमले में गाजा सिटी में एक और बहुमंजिला इमारत को जमींदोज कर दिया। इस घटना से इजराइल और हमास के बीच चल रहा संघर्ष और भड़क सकता है। वहीं विशेषज्ञों ने आशंका जतायी है कि गाजा के उग्रवादी, हमले के जवाब में कई रॉकेट दागेंगे।  

 

गाजा के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय का कहना है कि इजरायल के साथ शुरू हुये ताजा संघर्ष में मरने वालों की संख्‍या 70 पहुंच गई जिसमें 16 बच्‍चे शामिल हैं। वहीं इजरायली हमलों में 300 से ज्‍यादा लोग बुरी तरह से घायल हो गए हैं। इस बीच इजरायल की सेना ने कहा है कि हमास की ओर से अब तक 1500 से ज्‍यादा रॉकेट दागे गए हैं। इजरायली हवाई हमलों में हमास के 11 कमांडर मारे गए हैं। एक इजरायली सैनिक भी मारा गया है। विशेषज्ञों का कहना है कि हमास अभी झुकने के मूड में नहीं है और उसके पास अभी इतने रॉकेट हैं कि वह अगले दो महीने तक इजरायल पर हमला जारी रख सकता है।