IPL के 15वें सीजन का आगाज 26 मार्च से हो रहा है। पूरी दुनिया के क्रिकेट फैंस को IPL 2022 का बेसब्री से इंतजार है। IPL की बात करें तो यह टूर्नामेंट 2008 में शुरू हुआ था। आज यह दुनिया की सबसे बड़ी टी-20 क्रिकेट लीग बन गई है। 2008 में जब आईपीएल की शुरुआत हुई थी, तब इसकी काफी आलोचना की गई थी। कई पूर्व क्रिकेटरों ने यह आरोप लगाया था कि टी-20 लीग शुरू होने से टेस्ट क्रिकेट को नुकसान होगा और घरेलू क्रिकेट को भी नुकसान पहुंचेगा।

यह भी पढ़ें : यूक्रेन की तरह मणिपुर में फटने वाले थे बम, AssamRifles ने नाकाम किया आतंकियों का हमला

पिछले 14 वर्षों में आईपीएल ने काफी ऊंचाइयों को छुआ, और आईपीएल से कई बड़े खिलाड़ी बनकर उभरे हैं। विराट कोहली, रोहित शर्मा, जसप्रीत बुमराह, केएल राहुल, रवींद्र जडेजा और हार्दिक पांड्या जैसे कई दिग्गज क्रिकेट स्टार भारत को IPL से मिले हैं। आईपीएल के कारण क्रिकेट खेलने का पूरा तरीका बदल गया, तो वहीं कई क्रिकेटर इससे मालामाल हुए हैं। आईपीएल की शुरुआत 2008 में ललित मोदी की अगुवाई में हुई थी, ललित मोदी ने ही आईपीएल की संरचना रची और इसकी शुरुआत की।

फिलहाल IPL में सबसे अधिक सैलरी केएल राहुल को मिलती है। राहुल को लखनऊ की टीम इस सीजन के 17 करोड़ रुपये देगी। इसके बाद रोहित शर्मा और रवींद्र जडेजा को इस सीजन के 16-16 करोड़ रुपये मिलेंगे। विराट कोहली और हार्दिक पांड्या को इस सीजन के लिए 15-15 करोड़ रुपये मिलेंगे। धोनी को भी इस सीजन में खेलेंगे के लिए 12 करोड़ रुपए की रकम मिलेगी।

यह भी पढ़ें : इस राज्य के मुख्यमंत्री ने दिखाई हिम्मत, पूरे विधायकों के साथ देखी The Kashmir Files

शुरुआती IPL सीजन में पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी सबसे महंगे खिलाड़ी बनकर उभरे, 2008 में धोनी 6 करोड़ रुपये में बिके थे। उन्हें चेन्नई सुपर किंग्स ने खरीदा था, लेकिन आज धोनी को 12 करोड़ रुपये मिलते हैं। हालांकि आईपीएल की नीलामी में युवराज सिंह के नाम 16 करोड़ रुपये के साथ सबसे महंगे भारतीय खिलाड़ी के रूप में बिकने का रिकॉर्ड दर्ज है।

आईपीएल के आने से टी-20 क्रिकेट भी पूरी तरह से बदला, आईपीएल के पहले मैच में ही न्यूजीलैंड के ब्रैंडन मैक्कुलम ने कोलकाता नाइटराइडर्स की ओर से 158 रनों की शानदार पारी खेली थी। उसके बाद से ही आईपीएल की पहचान चौकों-छक्कों से भरपूर रही।

आईपीएल के कारण कई खिलाड़ियों की जिंदगी बदल गई, पहले जहां एक क्रिकेटर को एक मैच खेलने के लिए कुछ हजार रुपये ही मिलते थे। लेकिन, आईपीएल के बाद सभी खिलाड़ी करोड़ों रुपये में बिके और उनकी ब्रांड वैल्यू में काफी इजाफा हुआ।

आईपीएल क्रिकेट और ग्लैमर के साथ विवादों का भी अड्डा रहा है। फिक्सिंग, चीयरलीडर्स, पैसा आदि कई तरह के विवाद आईपीएल के साथ जुड़ चुके हैं। आईपीएल के आने से पहले कपिल देव की अगुवाई में आईसीएल भी आया था, जिसे BCCI ने मान्यता नहीं दी थी।