इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के 2021 सत्र के ओपनिंग मुकाबले में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने मुंबई इंडियंस को 2 विकेट से हरा दिया। इसके साथ ही मुंबई इंडियंस का 2013 से टूर्नमेंट में पहला मुकाबला नहीं जीत पाने का खराब रेकॉर्ड बरकरार रहा। मुंबई इंडियंस ने नौ विकेट पर 159 रन बनाये थे। कप्तान विराट कोहली (29 गेंदों पर 33, चार चौके) और ग्लेन मैक्सवेल (28 गेंदों पर 39, तीन चौके, दो छक्के) के आउट होने के बाद जब आरसीबी की टीम संकट में दिख रही थी तब डिविलियर्स ने 27 गेंदों पर चार चौकों और दो छक्कों की मदद से महत्वपूर्ण पारी खेली और स्कोर आठ विकेट पर 160 रन तक पहुंचाया।

160 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी बैंगलोर की टीम ने एक हैरान करने वाला फैसला किया। उम्मीद के मुताबिक विराट कोहली ओपनिंग करने उतरे, लेकिन उनका साथ देने के लिए वॉशिंगटन सुंदर आए। हालांकि, दोनों ने टीम को अच्छी शुरुआत दी और पहले विकेट के लिए 28 गेंदों में 46 रन जोड़े।

इस जोड़ी को क्रुणाल पंड्या ने तोड़ा। उन्होंने सुंदर (10 रन) को क्रिस लिन के हाथों कैच आउट कराया। इसेक बाद रजत पाटीदार (8) को ट्रेंट बोल्ट ने चलताकर RCB को दूसरा झटका दे दिया। हालांकि, यहां कोहली और टीम के लिए पहली बार खेल रहे मैक्सवेल ने 42 गेंदों में 52 रन जोड़ते हुए टीम को ड्राइविंग सीट पर ला दिया।

मैच को फंसता देख रोहित शर्मा ने अपने सबसे बड़े गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को गेंद थमाई तो उन्होंने भी कप्तान को निराश नहीं किया। बुमराह ने कप्तान विराट कोहली को LBW करते हुए बैंगलोर को बड़ा झटका दे दिया। इसके बाद मैक्रो जानसेन ने ग्लेन मैक्सवेल और शाहबाज अहमद को चलता करते हुए मुंबई की वापसी करा दी। विराट ने 29 गेंदों में 4 चौके की मदद से 33 रन बनाए, जबकि मैक्सवेल के नाम 28 गेंदों में 3 चौके और 2 छक्के की मदद से 39 रन दर्ज हुए।

डेनियन क्रिस्टियन (1) को बुमराह ने लौटाया तो आउट होने वाले बल्लेबाजों की संख्या 6 हो गई। हालांकि, पिक्चर अभी बाकी थी, क्योंकि मैदान पर डिविलियर्स मौजूद थे। RCB को जीत के लिए आखिरी दो ओवरों में 19 रन चाहिए थे। 19वां ओवर करने आए जसप्रीत बुमराह को डिविलियर्स ने दो चौके समेत 12 रन कूट डाले, जबकि जैमीसन रन आउट हुए।

अब आखिरी ओवर में जीत के लिए महज 7 रन चाहिए थे और गेंदबाज थे मार्को जानसेन। ओवर की चौथी गेंद पर एबीडी (27 गेंद, 4 चौके, दो छक्के, 48 रन) रन आउट जरूर हुए, लेकिन तब बैंगलोर को दो गेंदों में दो रन चाहिए थे। सिराज ने 5वीं गेंद पर बाई के रूप में एक रन चुरा लिए, जबकि आखिरी गेंद पर हर्षल पटेल ने एक रन बनाकर मैच बैंगलोर की झोली में डाल दिया।