मौजूदा आईपीएल सत्र की नंबर दो की टीम दिल्ली कैपिटल्स प्लेऑफ में पहुंचने की दावेदारी को मजबूत करने के लिए यहां रविवार को नंबर पांच की टीम पंजाब किंग्स के खिलाफ आईपीएल 14 का 29वां मुकाबला जीतना चाहेगी। वहीं इस मुकाबले में जीत से पंजाब की टॉप चार में जाने की उम्मीद बढ़ेगी, जबकि दिल्ली चाहे मुकाबले हारे या जीते वह टॉप चार में बनी रहेगी। 

पंजाब की टीम सात मैचों में चार हार और तीन जीत के साथ छह अंक लेकर पांचवें, जबकि दिल्ली की टीम सात मैचों में दो हार और पांच जीत के साथ 10 अंक प्राप्त कर दूसरे नंबर पर है। दोनों टीमें अपना पिछला मुकाबला बड़े अंतर से जीत कर आ रही हैं। दिल्ली ने जहां पिछले मुकाबले में कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) को 21 गेंदें शेष रहते हुए सात विकेट से पराजित किया था तो वहीं पंजाब ने अपने से ऊपर की टीम रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु (आरसीबी) को 34 रन से हराया था। 

पंजाब और दिल्ली दोनों की शीर्ष क्रम की बल्लेबाजी अच्छी है, लेकिन मध्य क्रम पंजाब का कमजोर पक्ष रहा है। शीर्ष क्रम पंजाब के कप्तान लोकेश राहुल, मयंक अग्रवाल और क्रिस गेल बल्ले के साथ अच्छे दिख रहे हैं, लेकिन मध्य क्रम में निकोलस पूरन, दीपक हुड्डा और शाहरुख खान ज्यादातर विफल रहे हैं। पूरन तो चार बार शून्य पर आउट हुए हैं। यही वजह है कि पंजाब बीच के ओवरों में थोड़ा कमजोर पड़ रहा है। पंजाब की गेंदबाजी फिर भी थोड़ी अच्छी दिख रही है। पिछले मैच में हरप्रीत बरार के प्रदर्शन ने टीम का उत्साह बढ़ा दिया है। 

फिलहाल लोकेश राहुल इस सीजन के टॉप स्कोरर हैं। उन्होंने सात मैचों में 331 रन बनाए हैं, जिसमें चार अर्धशतक भी शामिल हैं। वहीं दिल्ली की बल्लेबाजी और गेंदबाजी अब तक काफी अच्छी रही है। युवा खिलाड़ियों वाली इस टीम के युवा ही टीम को आगे ले जा रहे हैं। फिर चाहे बात पृथ्वी शॉ की हो, आवेश खान, ललित यादव या खुद कप्तान ऋषभ पंत की। टॉप ऑर्डर में पृथ्वी शॉ छा रहे हैं, जबकि गेंदबाजी के मोर्चे में आवेश का जलवा कायम है। इस सीजन सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाजों की सूची में 269 रन के साथ पृथ्वी चौथे तो वहीं 13 विकेटों के साथ गेंदबाजों की सूची में आवेश खान दूसरे नंबर पर हैं। दोनों टीमों के इस प्रदर्शन को देखते हुए यह कहना गलत नहीं होगा कि यह मुकाबला काफी दिलचस्प होगा। यहां से जीत के साथ दो अंक लेकर पंजाब की चौथे स्थान पर पहुंचने की उम्मीद बढ़ेगी तो वहीं दिल्ली एक जीत के साथ प्लेऑफ में पहुंचने की अपने दावेदारी को मजबूत करेगी।