क्रिस मौरिस को स्ट्राइक न देने के कप्तान संजू सैमसन के फैसले को लेकर क्रिकेट दुनिया में  घमासान मचा हुआ है। राजस्थान रॉयल्स के क्रिकेट डायरेक्टर कुमार संगकारा ने पंजाब किंग्स के खिलाफ मैच की आखिरी गेंद पर संजू के फैसले का समर्थन किया है। संगकारा ने कहा कि “संजू को ये भरोसा था कि वो आखिरी गेंद पर छक्का लगा देंगे। तो ऐसे में उन्होंने मैच खत्म होने की जिम्मेदारी ली, मेरी नजर में उनका ये फैसला सही था”।

उन्होंने कहा कि संजू मैच खत्म कर भी दिया था  लेकिन आखिरी गेंद पर छक्का लगाने से सिर्फ पांच या 6 गज से चूक गए, वरना गेंद बाउंड्री के पार चली जाती। क्रिकेट डायरेक्टर ने बताया कि “कभी-कभी जब आप जानते हैं कि आप गेंद को अच्छी तरह से मार रहे हैं, आप फॉर्म में हैं और आपको विश्वास है कि आप यह कर सकते हैं, तो आपको वह जिम्मेदारी लेनी होगी और संजू को ऐसा करते देखना वाकई उत्साहजनक था ”।


छोटी-मोटी चूक को अलग करते हुए महत्वपूर्ण बात खिलाड़ियों का विश्वास, दृष्टिकोण और समर्पण है क्योंकि वे जानते हैं कि उनकी ताकत क्या है। संगकारा
ने विश्वास के साथ कहा कि अगली बार संजू छक्का मारकर टीम को मैच जिताएंगे। उन्होंने कहा कि मैच में जरूरत के हिसाब से आपको अपना खेल बदलना होता है। कई बार आप ज्यादा खतरे उठाते हैं। ऐसे में निरंतरता तभी आएगी जब आप इस फर्क को समझने लगेंगे और खुद या परिस्थितियों से लड़ने की बजाए अपनी लय पर फोकस कर पारी बनाने की कोशिश करेंगे।