देश के वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बजट पेश कर रही हैं। बता दें कि जिस व्यक्ति ने पहली बार देश का आम बजट पेश किया था, वह एक अंग्रेज जेम्स विलसन था। 1860 में ईस्ट इंडिया कंपनी के शासनकाल में सालाना बजट पेश करने की अवधारणा को शुरू किया गया। चलिए आपको देश के बजट से जुड़ी कुछ इंट्रेस्टिंग फैक्ट बताते हैं।

1. बजट शब्द ‘बॉजेट’ से लिया गया है जिसका मतलब है कि फ्रेंच में छोटा बैग।

2. अरुण जेटली ने 2014 में सबसे लंबा बजट भाषण दिया जो 2.5 घंटे का रहा।

3. मोराजी देसाई ने वित्त मंत्री के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान 1962-69 के बीच सबसे ज्यादा बार बजट पेश किया, उन्होंने कुल 10 बार बजट पेश किया।

4.5 जुलाई 2019 को निर्मला सीतारमण भारत की पूर्व पीएम इंदिरा गांधी के बाद बजट पेश करने वाली दूसरी महिला बनीं।

5. भारत का पहला स्वतंत्र बजट 26 नवंबर 1947 को आर के शनमुखन चेट्टी द्वारा पेश किया गया।

6. रेलवे और आम बजट 2017 तक अलग-अलग प्रस्तुत किया जाता था, लेकिन इसके बाद दोनों का एक में विलय कर दिया गया।

7. जवाहरलाल नेहरू बजट पेश करने वाले पहले प्रधानमंत्री थे। उन्होंने 1958-59 में वित्त मंत्री का पोर्टफोलियो संभाला।

8. वर्ष 2016 तक फरवरी के अंतिम कार्य दिवस पर केंद्रीय बजट पेश किया गया था। पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस परंपरा को बदलते हुए 1 फरवरी कर दिया।