दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश इंडोनेशिया (Indonesia) के पूर्व राष्ट्रपति सुकर्णो की बेटी सुकमावती (Sukmawati Sukarnoputri) जल्द ही इस्लाम धर्म छोड़कर हिंदू धर्म अपनाने जा रही है। 26 अक्टूबर को वो पूजा में शामिल होंगी और इसके साथ ही हिंदू धर्म अपना लेंगी। एक रिपोर्ट के अनुसार मंगलवार को सुकर्णो हेरिटेज एरिया में यह कार्यक्रम होगा। आपको बता दें कि सुकमावती पूर्व राष्ट्रपति (Indonesia President) सुकर्णो की तीसरी बेटी हैं और पूर्व राष्ट्रपति मेगावती सुकर्णोपुत्री की छोटी बहन हैं। अभी 70 वर्षीय सुकमावती सुकर्णोपुत्री इंडोनेशिया में हैं।

कुछ समय पहले सुकमावती ने एक कविता शेयर की थी, जिसको कट्टरपंथियों इस्लाम का अपमान बताया है। इस घटना के बाद सुकमावती ने अपनी कविता के लिए माफी की मांग भी की थी। इंडोनेशिया में इस्लाम के अनुयायियों की संख्या सबसे अधिक है। यही नहीं इंडोनेशिया दुनिया की सबसे अधिक मुस्लिम आबादी वाला देश भी है।

यह भी पढ़ें— आपको फ्री में इंटरनेट देकर मालामाल हो गई ये कंपनी, कमा लिए इतने लाख करोड़ रूपये


सुकमावती के वकील विटारियोनो रेजसोप्रोजो ने कहा है कि इसका कारण उनकी दादी का धर्म है, उन्होंने यह भी कहा कि सुकमावती ने इसे लेकर काफी स्टडी की है और हिंदू धर्मशास्त्र को अच्छी तरह से पढ़ा है। सुकमावती अक्सर हिंदू धार्मिक समारोहों में शामिल होती थीं और हिंदू धार्मिक हस्तियों के साथ बातचीत करती थीं।
अब 26 अक्टूबर को बाली अगुंग सिंगराजा में 'शुद्धि वदानी' नाम का कार्यक्रम आयोजित होने जा रहा है। यहां पर ही वो हिंदू धर्म अपनाएंगी।