भारतीय रेल यात्रियों के लिए जरूरी खबर है। अगर आप एजेंट से टिक्कत बुक कराते हैं तो जरा सावधान हो जाने की जरूरत है। क्योंकि ऐसा करने से आपका पैसा भी जाएगा और टिकट भी नहीं मिलेगा। रेलवे लगातार अवैध रूप से टिकट बुक न कराने की चेतावनी दे रहा है। क्योंकि नकली एजेंट टिकट बुकिंग के नाम पर लोगों से ज्यादा पैसे वसूलकर गलत टिकट भी दे रहे है। लेकिन इस बार रेलवे ने सख्ती दिखा दी है।

हाल ही में पश्चिम रेलवे ने अवैध तरीके से टिकट बुक करने वाले और यात्रियों से ज्यादा पैसा लेने वाले एजेंटों पर कार्रवाई की है। रेलवे अब ऐसे टिकट बुक करने वाले एजेंटों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कर रहा है। इसके तहत पश्चिम रेलवे के सुरक्षा बलों की तरफ से 6 मंडलों में हर दिन विशेष अभियान चलाए जा रहे हैं। रेलवे का कहना है कि आम लोगों को भी सावधान रहने की जरूरत है। आईआरसीटीसी के जरिए किसी तीसरे व्यक्ति द्वारा जब टिकट बुक किए जाते हैं तो अलर्ट रहने की जरूरत है।

आपको बता दें कि पश्चिम रेलवे ने इस कार्रवाई के तहत लगभग 2.15 करोड़ रुपये के ई-टिकटों तथा यात्रा-सह-आरक्षण टिकटों को जब्त किया है। पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी सुमित ठाकुर ने बताया है कि पश्चिम रेलवे के आरपीएफ ने एजेंटों के खिलाफ विशेष रूप से अभियान चलाने के लिए आरपीएफ अपराध शाखा, साइबर सेल और डिवाइजनों की डिटेक्टिव जासूस विंग से समर्पित कर्मचारियों की विशेष टीमें बनाई हैं। इसमें यह पाया गया कि एजेंट कई फर्जी आई डी का यूज करते हुए टिकट बुक कर रहे थे। हालांकि, कुछ अधिकृत आईआरसीटीसी एजेंट भी शामिल थे। इन एजेंटों ने टिकट जारी करने के लिए फर्जी आईडी और अवैध सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया।