भारतीय रेलवे ने यात्रियों की सिर्फ एक गलती की वजह से जबरदस्त वसूली की है। रेलवे ने इस एक गलती की पेनल्टी के रूप में 100 करोड़ से ज्यादा पैसे वसूले हैं। अभी तक आपने सुना होगा कि रेलवे टिकट बेचकर और मालभाड़ा से पैसे कमाती है। लेकिन रेलवे की कमाई का एक और बड़ा जरिया फाइन (Fine) भी है।

रेलवे यह जुर्माना बिना टिकट (Ticketless Travellers) यात्रा करने वाले यात्रियों से वसूलता है। उत्तर रेलवे ने अप्रैल 2021 से 5 दिसंबर 2021 तक यानी सिर्फ 8 महीने में ही 100 करोड़ से ज्यादा का जुर्माना वसूला है। रेलवे ने ऐसे यात्रियों के लिए एक अभियान चलाया था जिससे ये वसूली की गई है।

उत्तर रेलवे महाप्रबंधक, आशुतोष गंगल ने कहा कि 1 अप्रैल 2021 से 5 दिसंबर 2021 के बीच कई रेलवे स्टेशनों और ट्रेन में टिकट जांच का अभियान चलाया गया जिसमें भारी संख्या में लोग बिना टिकट यात्रा करते पकड़े गए। इस दौरान बिना टिकट और अनधिकृत तौर पर यात्रा करने वालों से फाइन लिया गया। आशुतोष गंगल ने बताया कि टिकट जांच से प्राप्त जुर्माने की रकम 100 करोड़ से ज्यादा है।