भारत ने एकबा​र फिर से चीन पर डिजिटल स्ट्राइक करते हुए उसके 47 नए एप बैन कर दिए हैं। इससे पहले चीन के 59 एप बैन किए जा चुके हैं। अब बैन किए गए एप्स में ज्यादातर क्लोनिंग वाले एप्स हैं। पहले से बैन एप के जैसे एप बनाकर उतार दिए गए थे। इन एप्स पर यूजर्स की डेटा का आरोप लगा है। भारत ने चीनी ऐप्स के खिलाफ कार्रवाई गलवान घाटी में झड़प के बाद शुरू की थी।

भारत सरकार टिक-टॉक समेत 59 एप्स पहले ही बैन कर चुकी है। अब सरकार की नजर 275 चीनी ऐप्स पर है। इसमें PUBG भी शामिल है। गृह मंत्रालय ने अभी तक इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है। अभी चीनी एप्स का रिव्यू जारी है और ये भी पता लगाने की कोशिश है कि उन्हें फंडिंग कहां से हो रही है।
एक दूसरा मामला यह भी है कि चीन की कंपनी यूसी वेब पर भारत के खिलाफ खबरें चलाने का आरोप लगा है। चीन के अलीबाबा ग्रुप की कंपनी यूसी वेब के खिलाफ पूर्व असोसिएट डायरेक्टर ने गुड़गांव कोर्ट में याचिका दायर की है। आरोप है कि वेबसाइट पर चलाई गई फेक न्यूज का विरोध किया तो कंपनी ने उन्हें नौकरी से निकाल दिया। याचिका पर संज्ञान लेते हुए सिविल जज जूनियर डिविजन सोनिया श्योकंद की कोर्ट ने अलीबाबा और फाउंडर जैक मा को नोटिस जारी किया है।