चीन के साथ वास्‍तविक नियंत्रण रेखा पर जारी सीमा विवाद को देखते हुए भारत ने सीमा (LAC) पर पिनाका रॉकेट लॉन्‍चर (Pinaka Rocket Launcher) तैनात कर दिया है। इस खतरनाक हथियार का नाम भगवान शिव के धनुष पिनाक के नाम पर रखा गया है। यह एक मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर है जिसको भारत में तैयार किया गया है। इस रॉकेट लॉन्‍चर को डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट आर्गेनाइजेशन ने बनाया है।

बताया गया है कि पिनाका और स्मर्च मल्टी रॉकेट लॉन्चर सिस्टम को विभिन्न प्रकार के गोला-बारूद को फायर (weapon fire) करने के लिए डिजाइन किया गया है। इस हथियार को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि ये दुश्‍मनों के हमले का काफी तेजी से और सटीक तरीके से जवाब दे सकते हैं।

पिनाका रॉकेट का MK-1 वेरिएंट 45 किलोमीटर दूर के टारगेट को आसानी से मार गिरा सकता है। MK-2 पिनाका रॉकेट 90 किलोमीटर जबकि MK-3 पिनाका रॉकेट 120 किलोमीटर तक किसी भी टारगेट को मार गिरा सकता है। इस रॉकेट लॉन्चर की लंबाई 16 फीट 3 इंच से लेकर 23 फीट 7 इंच तक है।

इस 214 कैलिबर के इस लॉन्चर (Pinaka Rocket Launcher) से एक साथ 12 पिनाका रॉकेट दागे जा सकते हैं। जबकि एक लॉन्चर बैटरी के जरिए 44 सेकेंड में 72 पिनाका रॉकेट दागे जा सकते हैं। पिनाका रॉकेट की स्पीड करीब 5757 किलोमीटर प्रतिघंटा है।