वायुसेना का एक एमआई-17 हेलीकॉप्टर तकनीकी खराबी के चलते भारत-चीन सीमा के समीप अरुणाचल प्रदेश के पश्चिम तूतिंग में आपात स्थिति में उतरा। उसमें वायुसेना के 16 कर्मी सवार थे।

वायुसेना के जनसंपर्क अधिकारी विंग कमांडर रत्नाकर सिंह ने बताया कि यह हेलीकॉप्टर नियमित उड़ान पर था। वह जोरहाट से पश्चिम तूतिंग जा रहा था। उसमें सवार वायुसेना के सभी 16 कर्मी सुरक्षित हैं। उन्होंने बताया कि जब हेलीकॉप्टर पश्चिम तूतिंग लौट रहा था तब उसमें तकनीकी गड़बड़ी पैदा हो गयी।

मौसम के बदलते हालात के चलते अरुणाचल प्रदेश में इस चॉपर को उतारा गया था और इससे पहले भी पहाड़ी राज्यों में इस प्रकार की घटनाएं हुई हैं। अक्टूबर 2017 में अरुणाचल प्रदेश में MI-17 V5 हेलीकॉप्टर क्रैश में सात रक्षाकर्मियों की मौत हो गई थी। 2011 में मुख्यमंत्री दोरजी खांडू और चार अन्य लोग भी पहाड़ी राज्य में चॉपर क्रैशन में मारे गए थे।