रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) (DRDO) तथा वायु सेना (IAF) ने देश में ही डिजाइन और विकसित टैंक रोधी मिसाइल (anti tank missile) का शनिवार को पोखरण में सफल परीक्षण किया। इस मिसाइल का परीक्षण वायु सेना के हेलीकॉप्टर से किया गया। 

परीक्षण के दौरान मिसाइल ने मिशन के सभी लक्ष्यों को सफलतापूर्वक हासिल किया। इस दौरान सभी प्रणालियों ने संतोषजनक तरीके से काम किया और मिशन को अंजाम दिया। यह मिसाइल (anti tank missile) अत्याधुनिक तकनीक से लैस है जो सुरक्षित दूरी से सटीक निशाना लगाने में सक्षम है। 

यह मिसाइल (anti tank missile) 10 किलोमीटर दूरी तक लक्ष्य को भेद सकती है । इस मिसाइल के सफल परीक्षण से वायु सेना (IAF) की मारक क्षमता काफी हद तक बढ़ेगी और इसे रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता की दिशा में महत्वपूर्ण सफलता माना जा रहा है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) और डीआरडीओ के अध्यक्ष डॉक्टर जी सतीश रेड्डी (G Satheesh Reddy) ने मिसाइल के सफल परीक्षण के लिए बधाई दी है।