राज्य सरकार की पहल पर बुधवार से स्थानीय पोलो मैदान के पांचवें फील्ड में दूसरा भारत अंतर्राष्ट्रीय चेरी ब्लॉसम महोत्सव शुरू हुआ।

यह अलग बात है कि अभी तक गुलाबी और सफेद चेरी नहीं खिले हैं। महोत्सव के उद्घाटन समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर हिस्सा लेते हुए राज्य के वन एवं पर्यावरण मंत्री क्लेमेंट मराक ने कहा कि राज्य सरकार इस तरह के महोत्सवों का आयोजन कर राज्य में पर्यटन की संभावनाओं को बढ़ावा देने पर ध्यान केंद्रित कर रही है।

इस तरह के महोत्सव से न केवल पर्यटन को बढ़ावा मिलता है, बल्कि राज्य की उज्ज्वल छवि भी पेश होती है।

जापान, अमरीका स्वीट्जरलैंड तथा कोरिया जैसे देशों से अंतरमहाद्विपीय रिश्तों को प्रगाढ़ बनाने के उद्देश्य से चेरी ब्लॉसम महोत्सव मनाए जाने की जानकारी देते हुए उन्होंने उम्मीद जताई कि सभी पक्ष के सहयोग से मेघालय भी अगले कुछ सालों में अंतर्राष्ट्रीय स्वीकृति हासिल कर लेगा।

इस अवसर पर मंत्री मराक ने दूसरा भारत अंतर्राष्ट्रीय चेरी ब्लॉसम महोत्सव पोस्टेज स्टांप के स्पेशल कवर का अनावरण भी किया।

समारोह में प्रभारी मुख्य सचिव पीएम थांग्खिउ, पर्यटन विभाग की प्रधान सचिव आरवी सुचिंयांग समेत कई विशिष्ट व्यक्ति भी उपस्थित थे।