जहां में उसका ना नामोनिशान होना चाहिए
मोदी जी पाकिस्तान शमशान होना चाहिए

पुलवामा में दर्दनाक हमले के बाद हर किसी की जुबान पर पाकिस्तान को मुंह तोड़ जवाब देने की लोग केंद्रीय सरकार से गुहार पर गुहार लगा रहे हैं। जिस तरह से भारत के नौजवानों के पाकिस्तान ने चिथड़े उड़ाएं हैं ठीक उसी तरह से पाकिस्तान के उग्र लोगों का कतरा कतरा बिखने की लोग मांग कर रहे हैं। बीजेपी विधायक मृणाल सैकिया ने भी लोगों की बात का समर्थन देते हुए केंद्रीय सरकार से गुजारिश की है कि भारत को पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध छेड़ना चाहिए। उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ने पर पाकिस्तान को दुनिया के नक्शे से ही हटा देना चाहिए क्योंकि यह देश आतंकियों का पनाहगार है। विधानसभा के प्रश्नकाल में पुरक सवाल करते हुए बीजेपी विधायक मृणाल सैकिया ने पाकिस्तान समर्थिक आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद द्वारा जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सुरक्षा बलों पर कातिलाना हमला कर 44 सीआरपीएफ जवानों के बाद दोबारा पांच भारतीय सेना जवानों की हत्या करने की घटना पर चिंता व्यक्त की है।मृणाल ने गोलाघाट के सीमांत सैकिया सहित कुछ भारतीय नागरिकों को भारत-पाक सीमा पर एक जहाज में काम करने के दौरान सन 2018 के 28अक्टूबर को पाकिस्तान प्रशासन द्वारा गिरफ्तार करने के संबंधी तारांकित सवाल उठाया था। सदन में गृह विभाग की ओर से संसदीय कार्यमंत्री चंद्रमोहन पटवारी ने बताया कि सीमांत सैकिया फिलहाल पाकिस्तान के लांधी जेल में कैद है।असम पुलिस ने सीमांत सैकिया की रिहाई के लिए केंद्रीय एजेंसियों के जरिए पाकिस्तान दुतावास से संपर्क स्थापित किया है।बीजेपी विधायक सैकिया ने सदन में भारत को पाकिस्तान के खिलाफ अंतिम लड़ाई शुरू करने और जरूरत पड़ने पर विश्व के नक्शे से ही पाक का नामोनिशान मिटा देने का प्रस्ताव रखा है।उनके इस प्रस्ताव का सत्ताधारी सहित विपक्षी कांग्रेस ने भी समर्थन किया है। संसदीय कार्यमंत्री पटवारी ने सदन को बताया कि इस संबंध में केंद्रीय सरकार जरूर पहल कर रही है और आगे की रणनीति पर चर्चा जारी है।पुलवामा हमले में शहीद जवानों के प्रति  श्रद्धा जताते हुए विधानसभा अध्यक्ष हितेंद्रनाथ गोस्वामी ने एक प्रस्ताव का पाठ किया और सदन में एक मिनट का मौन रखा गया।