भारतीय तीरंदाज अतानु दास और उनकी पत्नी स्टार तीरंदाज दीपिका कुमारी ने पेरिस तीरंदाजी विश्व कप चरण तीन में मिश्रित युगल स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतकर नया इतिहास बना दिया। वे यह उपलब्धि हासिल करने वाली पहली जोड़ी बन गए हैं। दीपिका ने प्रतियोगिता में व्यक्तिगत, महिला युगल और मिश्रित युगल में स्वर्ण पदक जीतकर हैट्रिक बनायी। 

कम्पाउंड तीरंदाज अभिषेक वर्मा ने शनिवार को पुरुष व्यक्तिगत स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीता था। दास ने जीत के बाद कहा, हम दोनों एक दूसरे के लिए बने हैं मुझे लगता है कि इसी कारण हमारी शादी हुई है। हम एक दूसरे को न केवल प्रेरित करते हैं बल्कि एक दूसरे का उत्साह बढ़ाते हैं और एक साथ जीतते हैं। रिकर्व व्यक्तिगत स्पर्धा में में दीपिका ने रूस की एलेना ओसीपोवा को 6-0 से पराजित कर स्वर्ण जीता। दीपिका ने पहला सेट 29-27 से जीता , दूसरा सेट उन्होंने 29-28 से जीतकर 4-0 की बढ़त बनायी और तीसरे सेट में दीपिका ने 28-27 से जीत हासिल की। 

महिला टीम स्पर्धा का स्वर्ण दीपिका की अगुवाई वाली भारतीय टीम ने मेक्सिको की टीम को 5-1 से हराकर जीता। मिश्रित युगल में अतानु और दीपिका ने हालैंड की जोड़ी जे$फ वान देन बर्ग और गेबी स्च्लोएसेर को हराकर जीता। भारतीय तीरंदाजी संघ के अध्यक्ष अर्जुन मुंडा ने भारतीय तीरंदाजों को इस शानदार प्रदर्शन के लिए बधाई देते हुए कहा कि टोक्यो ओलम्पिक से पहले यह भारतीय तीरंदाजों का अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। उन्होंने उम्मीद जताई कि भारतीय तीरंदाज इस प्रदर्शन को ओलम्पिक में भी दोहराएंगे।