भारत और चीन के बीच अब भी तनाव का माहौल अभी बना हुआ है। LAC पर सबकुछ यथास्थिति करने के लिए कमांडर स्तर बातचीत से कोई पुख्ता हल नहीं निकला। इसके बाद अब तनाव को कम करने के लिए आज मेजर जनरल स्तर की वार्ता होने वाली है। आर्मी के सूत्रों के मुताबिक यह बातचीत दौलत बेग ओल्डी इलाके में होगी। इस बैठक में भारत की तरफ से मेजर जनरल अभिजीत बापट शामिल हो हो सकते हैं।
खबर है कि इस बातचीत का अजेंडा देपसैंग इलाके में तनाव कम करना और विवादित सीमा से दूर हटने पर सहमति बनाना होगा। बता दें कि जीन ने देपसैंग में अपने 1500 से ज्यादा सैनिक तैनात कर रखे हैं। इधर भारत ने भी बड़ी संख्या में जवानों की तैनाती की है। जहां बातचीत होनी है यह जगह 16000 फीट की ऊंचाई पर है। भारत पहले भी चीन पर दबाव डाल चुका है कि वह अपने सैनिकों को पीछे हटा ले जिससे तनाव की स्थिति कम हो जाए हालांकि चीन अभी फिंगर एरिया से ज्यादा पीछे नहीं हटा है।
चीन के सैनिक मई से ही LAC पर काफी उग्र व्यवहार कर रहे हैं और इसी वजह से पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में हिंसक झड़प हो गई थी। इसमें भारत के सैनिक शहीद हुए थे और चीनी सैनिक भी मारे गए थे। इसके बाद तनाव बढ़ गया। हालांकि चीन बाद में पीछे हटने को मजबूर हो गया। अब भारत चाहता है कि चीन की टुकड़ियां फिंगर एरिया में न रहें जिससे दोबारा विवाद होने का चांस कम हो जाए। अभी तक चीन इसपर सहमत नहीं हुआ है। वहीं कई जगहों पर चीन के सैनिक भारतीय जवानों को गश्त भी नहीं करने दे रहे। इस मामले में भी आज बैठक में बात हो सकती है।