भारत-बांग्लादेश सीमा पर सुरक्षा में चूक के मामले लगातार प्रकाश में आ रहे हैं। हाल ही में सीमा पार करने वाले कई बांग्लादेशी नागरिक सीमा सुरक्षा बल के हाथों पकड़े गए थे। एक तरफ जहां पूर्वोत्तर भारत में बांग्लादेशी घुसपैठियों को लेकर आए दिन कोई न कोई बवाल होता रहता हैं। पूछताछ में इन्होंने बताया था कि अंतर्राष्ट्रीय सीमा के दोनों पार काफी संख्या में एजेंट मौजूद है, जो सिर्फ यही काम करते हैं कि बांग्लादेशियों को अंतर्राष्ट्रीय सीमा पार कराने वाले एजेंटों का धंधा अब उच्ची कीमतों पर पहुंचने की बात का खुलासा यहां पर पकड़ा गया एक बांग्लादेशी घुसपैठी माइनुल ने किया था।

पूछताच में इन्होंने बताया था कि अंतर्राष्ट्रीय सीमा के दोनों पार काफी संख्या में एजेंट मौजूद है, जो सिर्फ यही काम करते है कि बांग्लादेशियों को अंतर्राष्ट्रीय सीमा पार करवाकर कैसे भारत भेजवाना है। इसके लिए बकायदा कीमत फिक्स है। जैसे कि केवल सीमा के उस पार से इस पार पहुंचाने के लिए यह एजेंट से दो या तीन हजार रुपए एक आम बांग्लादेशी नागरिक से लिया जाता है।

ज्ञात हो कि भारत से सटी बांग्लादेश की सीमा पर कड़ी चौकसी नहीं है। यदि होती तो दक्षिण पश्चिम खासी हिल्स के खंजोय साप्ताहिक बाजार में व्यापक के उद्देश्य से आए नौ बांग्लादेशी नागरिक भारत में प्रवेश नहीं कर पाते। इससे यह साफ हो गया है कि ये भारतीय क्षेत्र में प्रवेश कर बड़े मजे से बाजार घूमते और वापस चले जाते। यह तो संयोग है कि सीमा पर तैनात सीसुब के जवानों के हाथों इन लोगों की गिरफ्तारी हई, तब मामले का खुलास हो सका।